COVID-19: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने कहा, हॉस्टल छोड़ घर लौट जाएं छात्र

“पूरे भारत में कोविड ​​-19 के बढ़ते मामलों के कारण स्थिति चिंताजनक हो गई है और हॉस्टल में भी महामारी के होने का खतरा है. इसलिए, सभी छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे हॉस्टल को छोड़ दें और अपने-अपने घरों में चले जाएं. ”

COVID-19: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने कहा, हॉस्टल छोड़ घर लौट जाएं छात्र

नई दिल्ली:

राज्य ने COVID-19 मामलों की संख्या में वृद्धि दर्ज की है, ऐसे में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) ने छात्रों को कैंपस हॉस्टल छोड़ने और वापस अपने घरों में लौटने की सलाह दी है.

“पूरे भारत में कोविड ​​-19 के बढ़ते मामलों के कारण स्थिति चिंताजनक हो गई है और हॉस्टल में भी महामारी के होने का खतरा है. इसलिए, सभी छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे  हॉस्टल को छोड़ दें और अपने-अपने घरों में चले जाएं. ”

इससे छात्रों के स्वास्थ्य की रक्षा करने में मदद मिलेगी. छात्रों को ऑनलाइन मोड में कक्षाएं और रिसर्च कार्य जारी रखने की सलाह दी जाती है. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) ने COVID-19 महामारी के कारण 20 जून से 11 जुलाई तक होने वाली प्रवेश परीक्षा को भी रद्द कर दिया है. आधिकारिक नोटिफिकेशन में लिखा गया है, "कोविड-19 महामारी को देखते हुए ए़़डमिशन टेस्ट शेड्यूल  2021-22 वापस ले लिया गया है.

5 अप्रैल को, एएमयू ने कोरोवायरस के प्रसार को रोकने के लिए परिसर में नए प्रतिबंध लगाते हुए संशोधित विनियम जारी किए हैं.

विश्वविद्यालय ने 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी कर्मचारियों से कोविड ​​-19 का टीकाकरण करवाने का आग्रह किया है. वहीं अपने सभी शिक्षकों, छात्रों और कर्मचारियों को कार्यालयों, स्कूलों, कॉलेजों, पुस्तकालयों, विभागों, कार्यालयों और केंद्रों में मास्क पहनने की सलाह दी.

विश्वविद्यालय ने विक्रेताओं सहित सभी गैर-विश्वविद्यालय कर्मचारियों के प्रवेश को भी प्रतिबंधित कर दिया है। "प्रोटोकॉल का उल्लंघन सरकारी दिशानिर्देशों और विश्वविद्यालय के नियमों के अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा".


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com