CBSE 12वीं के छात्रों की मार्किंग कैसे होगी? इन दो विकल्पों पर चल रहा विचार: सूत्र

CBSE 12th Board Exam Result 2021: सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, छात्रों की मार्किंग के लिए दो विकल्पों पर विचार चल रहा है.

CBSE 12वीं के छात्रों की मार्किंग कैसे होगी? इन दो विकल्पों पर चल रहा विचार: सूत्र

CBSE 12वीं के छात्रों के मूल्यांकन के लिए इन दो विकल्पों पर कर रहा है विचार: सूत्र

नई दिल्ली:

CBSE 12th Board Exam Result 2021: सीबीएसई 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए रद्द कर दी गई हैं. सरकार के 12वीं की परीक्षा रद्द करने के फैसले से लाखों छात्रों और अभिभावकों ने खुशी जाहिर की है. लेकिन अब सवाल उठ रहा है कि आखिर छात्रों का मूल्यांकन किस आधार पर किया जाएगा. वहीं इसी बीच अब सूत्रों के हवाले से मूल्यांकन की प्रक्रिया को लेकर जानकारी मिली है. 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, छात्रों की मार्किंग के लिए दो विकल्पों पर विचार चल रहा है. जो इस प्रकार हैं-

1. जानकारी के मुताबिक, 12वीं के छात्रों का मूल्यांकन पिछली 2 कक्षाओं (10वीं और 11वीं) की अंतिम परीक्षाओं और 12वीं की आंतरिक परीक्षाओं में प्रदर्शन के आधार पर हो सकता है.

2. या फिर कक्षा 10वीं के बोर्ड के परिणाम को कुछ वेटेज दिया जा सकता है और कुछ वेटेज कक्षा 12वीं के आंतरिक मूल्यांकन को दिया जाएगा.


बता दें कि सीबीएसई कल 3 जून को सुप्रीम कोर्ट में अपना फैसला बताएगा. अब देखना ये होगा कि परीक्षाएं रद्द होने के बाद किस तरह छात्रों का मूल्यांकन किया जाएगा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, शिक्षा मंत्री ने अपने एक ट्वीट में कहा था, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और बारहवीं कक्षा के छात्रों के मन में चिंता को समाप्त करने के लिए यह तय किया गया है कि वेल डिफाइन्ड क्राइटेरिया के आधार पर सीबीएसई बोर्ड परीक्षा का परिणाम जारी किया जाएगा."