'Written by sanskriti singh edited by shikha sharma'

- 8 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • Emotions | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |सोमवार सितम्बर 2, 2019 02:46 PM IST
    जब आप सो रहे होते हैं तो मस्तिष्क में अव्यक्त अवचेतन धारणाओं द्वारा विकसित विचारों,  भावनाओं और विभिन्न अभ्यावेदन का एक क्रम सपने के रूप में आने लगता है.
  • Mental Health | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |मंगलवार अगस्त 27, 2019 01:03 PM IST
    पर्सनालिटी हर किसी व्‍यक्ति को अलग बनाती है. इसी से लोगों की पहचान बनती है. हमारे व्यवहार की शैली, हम बातों पर कैसे प्रतिक्रिया देते हैं, हमारे विचार, भावनाएं और रिश्तों को हम कैसे निभाते हैं, यह सभी हमारी पर्सनालिटी का हिस्सा हैं. ऐसे में अगर आपका व्‍यक्तित्‍व अलग-सा है, आप छोटी-छोटी बातों पर अजीब-सा व्‍यवहार करते हैं, बात-बात पर गुस्‍सा हो जाते हैं तो आपको पर्सनालिटी इश्‍यू हो सकते हैं.
  • Mental Health | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |सोमवार सितम्बर 2, 2019 12:15 PM IST
    संगठनात्मक कौशल मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है. एडीएचडी प्रमुख मानसिक बीमारियों में से एक है. इसमें रोगी में संगठनात्मक कौशल में कमी होती है.
  • Mental Health | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |बुधवार अगस्त 21, 2019 02:19 PM IST
    अकेलेपन की व्याख्या अपने रिश्ते को लेकर कर सकते हैं. उदाहरण के लिए, एक ऐसा व्यक्ति है जिसके बहुत सारे दोस्त हैं और वो हर दिन बाहर जाते हैं, वहीं दूसरा व्‍यक्ति ऐसा है, जिसके केवल 2 दोस्‍त हैं. ऐसे में हम जिस व्‍यक्ति के 2 दोस्‍त हैं, उसको अकेला मानने लगेंगे. इस तरह से अकेलेपन को गुणवत्ता और ग्रुप की मात्रा के बीच एक अंतर्विरोध के रूप में वर्णित किया जा सकता है.
  • Children | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |सोमवार अगस्त 19, 2019 02:55 PM IST
    किशोर होते बच्‍चे के लिए पेरेंटिंग तकनीक काफी तनावपूर्ण हो सकती है. कभी-कभी आपको रोजमर्रा की परेशानियों से दूर रहने और अपने जीवन में एक सकारात्मक बदलाव लाने की आवश्यकता होती है. यदि आप एक कामकाजी माता-पिता हैं और अपने बच्चों के साथ पर्याप्त समय नहीं बिता पाते, तो कुछ ऐसी आदते हैं जो आपकी मदद कर सकती हैं.
  • Mental Health | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |बुधवार अगस्त 21, 2019 03:42 PM IST
    आमतौर पर, सिज़ोफ्रेनिया वाले व्यक्ति को वास्तविकता और भ्रम को अलग समझने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है, जबकि एक सामान्य व्यक्ति आसानी से ऐसा करने में सक्षम होगा.
  • Living Healthy | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |बुधवार अगस्त 21, 2019 03:57 PM IST
    दुनिया भर में मेंटल डिसऑर्डर आम हो सकता हैं, लेकिन यह अभी भी विभिन्न मिथकों को घिरा हुआ है. ये मिथक लोगों को प्रोफेशनल मदद लेने से रोकते हैं, जो स्थिति को और खराब कर देता है और अक्सर लोगों को आत्महत्या की ओर भी ले जाता है. लोग इस पर खुलकर बात करने से भी बचते हैं.
  • Mental Health | Written by Sanskriti Singh, Edited by Shikha Sharma |बुधवार अगस्त 21, 2019 03:45 PM IST
    विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, ऐंगज़ाइअटी डिसऑर्डर (Anxiety Disorder) आमतौर पर असामान्य विचारों, भावनाओं, व्यवहार और दूसरों के साथ संबंधों का संयोजन हैं'. एक व्यक्ति अलग तरह से महसूस और व्यवहार करता है और खुद व अपने आसपास के लोगों को परेशान करने लगता है, मानसिक बीमारी से पीड़ित हो सकता है.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com