विज्ञापन
Story ProgressBack

World Environment Day 2024: क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस, यहां जानिए महत्व, इतिहास और इस साल की थीम  

World Environment Day History: पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देना और लोगों को इसके महत्व से जागरूक कराना भी पर्यावरण दिवस मनाने के कारणों में शामिल है. 

Read Time: 3 mins
World Environment Day 2024: क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस, यहां जानिए महत्व, इतिहास और इस साल की थीम  
हर साल 5 जून के दिन मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस.

World Environment Day 2024: जिस परिवेश में हम रहते हैं उसे पर्यावरण कहते हैं. अगर हमारा पर्यावरण सुरक्षित नहीं होगा तो हमारी सुरक्षा पर भी प्रश्न चिन्ह लग जाएगा. जिस हवा में हम सांस ले रहे हैं, जो पानी पी रहे हैं, जिन चीजों का उपभोग कर रहे हैं वे सभी हमारे पर्यावरण के अंतर्गत आती हैं. ऐसे में पर्यावरण संरक्षण (Environment Protection) का महत्व बढ़ जाता है. पर्यावरण संरक्षण का मतलब है अपने पर्यावरण की सुरक्षा. पर्यावरण को सुरक्षित रखने वाली आदतें अपनाकर, प्रदूषण कम करके और बिजली व पानी की खपत को कम करके हम सभी अपने-अपने स्तर पर पर्यावरण सरंक्षण में योगदान दे सकते हैं. पर्यावरण के इसी महत्व को उजागर करने, पर्यावरण सरंक्षण के लिए जरूरी कदम उठाने और लोगों को इसके प्रति जागरूक करने के लिए ही हर साल 5 जून के दिन विश्व पर्यारण दिवस मनाया जाता है. 

धूप से होने लगी है टैनिंग तो पीना शुरू कर दीजिए न्यूट्रिशनिस्ट की बताई यह ड्रिंक, चेहरा निखर जाएगा

विश्व पर्यावरण दिवस का इतिहास | World Environment Day History 

संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने साल 1972 में स्टॉकहोम कोंफ्रेस के दौरान 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस घोषित किया था. यह विश्व की पहली कोंफ्रेंस थी जिसमें पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर बात हुई थी. UNEP का गठन भी इसी साल हुआ था. इसके अगले साल यानी 1973 में पहला विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया था. पहले साल की थीम (Theme) 'ऑनली वन अर्थ' यानी 'सिर्फ एक पृथ्वी' थी. 

विश्व पर्यावरण दिवस की थीम 

इस साल विश्व पर्यावरण दिवस की थीम 'Land Restoration, Desertification, and Drought Resilience' यानी भूमि पुनर्स्थापन, मरुस्थलीकरण और सूखे से लचीलेपन के ऊपर है. भूमि की बात करें तो साल 2000 से अबतक सूखा पड़ने का आंकड़ा 29 प्रतिशत तक ऊपर गया है. ऐसे में यदि समय रहते भूमि संरक्षण पर ध्यान ना दिया गया तो साल 2050 तक विश्व की एक तिहाई आबादी को सूखा प्रभावित कर सकता है. 

इस साल किंग्डम ऑफ साउदी अरेबिया विश्व पर्यावरण दिवस का ग्लोबल होस्ट है. ऑफिस, स्कूल, कॉलेज और अन्य संगठन विश्व पर्यावरण दिवस मनाते हैं. इस मौके पर कोशिश यही रहती है कि सभी एकसाथ मिलकर और अपने-अपने स्तर पर पर्यावरण सरंक्षण के प्रयास करें.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Nutritionist के बताए 10 आसान Tips से कभी नहीं बढ़ेगा घटाया हुआ वजन

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
धूप से होने लगी है टैनिंग तो पीना शुरू कर दीजिए न्यूट्रिशनिस्ट की बताई यह ड्रिंक, चेहरा निखर जाएगा
World Environment Day 2024: क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस, यहां जानिए महत्व, इतिहास और इस साल की थीम  
बिल्कुल सैलून जैसा हेयर स्पा अब घर पर कर सकते हैं सिर्फ 10 रुपए में, इन छोटे भूरे बीजों से तैयार करें क्रीम 
Next Article
बिल्कुल सैलून जैसा हेयर स्पा अब घर पर कर सकते हैं सिर्फ 10 रुपए में, इन छोटे भूरे बीजों से तैयार करें क्रीम 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;