सैलरी हाथ में आए उससे पहले ही अपना लें ये 10 टिप्स, आने वाले महीने में नहीं होगी पैसों की किल्लत और बचत भी होगी पूरी

Salary Saving Tips: महीना खत्म हो जाने से पहले ही अगर सैलरी खत्म हो जाती है तो ये चिंता का विषय है. आपके साथ भी ऐसी नौबत ना आए इसलिए अपना लें ये बचत के टिप्स.

सैलरी हाथ में आए उससे पहले ही अपना लें ये 10 टिप्स, आने वाले महीने में नहीं होगी पैसों की किल्लत और बचत भी होगी पूरी

Saving Tips: पैसों की बचत करने से आपके खर्चों पर भी लगाम लग जाएगी.

खास बातें

  • सेविंग टिप्स से सैलरी बचाने में मिलेगी मदद.
  • पूरे महीने का खर्चा निकालना हो जाएगा आसान.
  • बिना मनी मैनेजमेंट के आर्थिक दिक्कतें होने लगती हैं.

Budget Tips: अपनी आय से अधिक खर्च करना आपको मुश्किल में डाल सकता है. वहीं, ये भी जरूरी है कि आप अपनी आय का एक हिस्सा सेव करें. सेविंग्स बहुत ही जरूरी हैं और हर किसी को अपनी तनख्वाह से कुछ न कुछ बचत जरूर करनी चाहिए, तब ही तरक्की करना संभव हो सकेगा. आप जितना कमाते हैं अगर उतना खर्च ही कर दें तो फ्यूचर प्लानिंग कैसे होगी, घर, मकान, गाड़ी, बच्चों की पढ़ाई इन सभी जरूरी चीजों के लिए पैसे बचना बहुत जरूरी है. हर किसी के लिए जरूरी है कि अपनी सैलरी का कम से कम 20 प्रतिशत जरूर सेव करें. हम आज यहां आपको कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं जो सेविंग करने में आपकी मदद करेंगे.



सैलरी बचाने के टिप्स | Salary Saving Tips



हर सैलरी से पहले करें बजट प्लान


हर सैलरी से पहले बजट तैयार कर लें. घर का किराया, राशन और बच्चों की फीस जैसी जरूरी चीजों को प्राथमिकता दें. आप नोटबुक या बजट ऐप की भी मदद ले सकते हैं. जितना संभव हो जरूरत के हिसाब से ही खर्च करें.

 अपने खर्च को ट्रैक करें


बजट बनाने में हमारे असफल होने का एक कारण यह है कि हम अपने खर्च को ट्रैक नहीं करते. हम मानते हैं कि हम राशन के सामान पर कम राशि खर्च करते हैं, जबकि वास्तव में यह उस राशि से दोगुना होता है जितनी हमने सोची होती है. अपने खर्च को ट्रैक करने से आपको पता चल जाएगा कि आपकी सैलरी किस तरह यूज हो रही है. अपने वेतन से पैसे बचाने से पहले, पिछले कुछ महीनों के अपने खर्च की समीक्षा करें. अक्सर, हम पाते हैं कि बचत करने के लिए हम कुछ खर्चों में कटौती कर सकते हैं.



इन खर्चों पर अपनी लागत कम करें


आवास, भोजन और परिवहन इन तीनों पर ही सबसे अधिक खर्च आता है. ऐसे में इनके लिए बजट तैयार करें. राशन में जरूरत की चीजों को ही जगह दें. यातायात पर खर्च को कम करने के लिए कार-पूलिंग, मंथली कार्ड की व्यवस्था करें. आप अपने वाहन की जगह मेट्रो से आना-जाना भी कर सकते हैं.



मोबाइल खर्च को कम करें


सर्च करें कि कौन सी सेवा प्रदाता कंपनी सस्ते दरों पर सेवा दे रही है. इंटरनेट के लिए भी सस्ते प्लान देखें और उनका इस्तेमाल करें.


बिजली बिल पर करें कंट्रोल


इस्तेमाल न होने पर अपने फोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक चार्जर को अनप्लग करने से आपका बिजली का बिल कम हो सकता है. एयर कंडीशनर ऑन करने से पहले अपने घर में आने वाली धूप को कम करने की कोशिश करें, एलईडी बल्ब का इस्तेमाल करें. इस तरह आप बिजली बिल पर कंट्रोल कर सकेंगे


 अपने पैसे तक पहुंच को असुविधाजनक बनाएं


अधिक कैश घर पर न रखें, घर में पैसे होने पर खर्च भी अधिक होता है. पैसों को बैंक अकाउंट में रखें और जरूरत के अनुसार उनका इस्तेमाल करें.



सेविंग अकाउंट में रखें पैसे


सैलरी अकाउंट के अलावा एक सेविंग अकाउंट ओपन करें और सेविंग्स के पैसे उसी में रखें. हर महीने निर्धारित करें कि आपको कितने पैसे जमा करने हैं.



ऑनलाइन शॉपिंग पर करें कंट्रोल


कई लोगों को ऑनलाइन शॉपिंग की लत हो जाती है, ऐसे में वे जरूरत के लिए नहीं बल्कि शौक के तौर पर लगातार ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं. इस तरह आधी से ज्यादा सैलरी इसी में खर्च हो जाती है. आपको इस पर कंट्रोल करने की जरूरत है. ऑनलाइन शॉपिंग को अपनी लत न बनने दें.



मनोरंजन के लिए दूसरे साधन की करें तलाश


मनोरंजन के लिए मोबाइल पर दर्जन भर सब्सक्रिप्शन लेने से बेहतर है आप किसी एक या दो का चुनाव करें. वीकेंड पर आस-पास घूम आएं, परिवार के साथ समय बिताएं और इस तरह बचत भी करें


अपना ख्याल रखें


बचत के लिए अपनी सेहत से कॉम्प्रमाइज न करें. अपनी सेहत का ध्यान रखें, बाद में बीमार पड़ कर अपनी सारी सेविंग्स गंवाने से बेहतर है कि आप पहले से ही खुद का ध्यान रखें. 

IIFA 2022 प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिखीं बॉलीवुड हस्तियां, सलमान, वरुण और अनन्या पांडे का दिखा खास अंदाज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com