UP बोर्ड 12वीं की परीक्षाओं पर अब सबकी नज़र, क्या CBSE की तरह रद्द करेगा एग्जाम? जानिए Updates

UP Board Class 12th Exam: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सीबीएसई की 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने के फैसले का स्वागत किया है.

UP बोर्ड 12वीं की परीक्षाओं पर अब सबकी नज़र, क्या CBSE की तरह रद्द करेगा एग्जाम? जानिए Updates

UP बोर्ड परीक्षाओं पर जल्द आ सकता है फैसला.

नई दिल्ली:

UP Board Class 12th Exam: सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षाएं लंबे इंतजार के बाद रद्द कर दी गई हैं. सीबीएसई के बाद हारियाणा और ICSE ने भी 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने का फैसला लिया है. अब सबकी नजरें यूपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षाओं पर टिकी हुई हैं. CBSE की 12वीं परीक्षाएं रद्द होने के बाद यूपी बोर्ड के छात्रों के मन में सवाल है कि आखिर उनकी परीक्षाएं आयोजित होंगी या नहीं. 

बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सीबीएसई की 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने के फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, "आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने कोविड संक्रमण के दृष्टिगत सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया है. यह निर्णय देश भर के छात्रों की स्वास्थ्य सुरक्षा की दिशा में बढ़ाया गया महत्वपूर्ण कदम है. सभी छात्रों व अभिभावकों की ओर से आदरणीय प्रधानमंत्री जी का हार्दिक आभार."

इससे ये उम्मीद जताई जा रही है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा रद्द कर सकते हैं और इस संबंध में जल्द ही अहम फैसले की घोषणा कर सकते हैं. 

बता दें कि कुछ समय पहले यूपी बोर्ड ने हाईस्कूल की परीक्षाएं रद्द कर दी थीं, जबकि 12वीं कक्षा की परीक्षाओं पर जुलाई में फैसला लेने की बात कही थी. 

यूपी सरकार ने कहा था कि हालात ठीक हुए तो इंटर के बोर्ड एग्जाम जुलाई के दूसरे हफ्ते में कराए जाएंगे. इस तरह कक्षा 6 से कक्षा 11वीं तक के बच्चे बिना परीक्षा के अगली क्लास में प्रमोट कर दिए जाएंगे. यह भी जानकारी दी गई थी कि अगर इंटर के पेपर हुए तो वो सिर्फ़ डेढ़ घंटे का होगा और छात्रों को सिर्फ 3 सवालों का जवाब देना होगा.



वहीं कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा था कि वे इस समय राज्य में कोविड ​​-19 की स्थिति की जांच कर रहे हैं और यूपी बोर्ड परीक्षाओं पर अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चर्चा के बाद लिया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिनेश शर्मा ने कहा था, "हम पहले ही पेपर प्रिंट कर चुके हैं, डिकोडेड कॉपियों के सेट बना चुके हैं और परीक्षाओं के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए 8,513 केंद्र आवंटित कर चुके हैं. हम कोविड की स्थिति की जांच कर रहे हैं. "