अब लाइफटाइम के लिए मान्य होगा टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट का सर्टिफिकेट, 7 साल का नियम हुआ समाप्त

जो उम्मीदवार शिक्षक के क्षेत्र में करियर बना रहे हैं उनके लिए एक अच्छी खबर है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने घोषणा की कि शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) की अवधि जो पहले 7 साल थी अब उसे हमेशा के लिए बढ़ा दिया गया.

अब लाइफटाइम के लिए मान्य होगा टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट का सर्टिफिकेट,  7 साल का नियम हुआ समाप्त

नई दिल्ली:

जो उम्मीदवार शिक्षक के क्षेत्र में करियर बना रहे हैं उनके लिए एक अच्छी खबर है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने घोषणा की कि शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) की अवधि जो पहले 7 साल थी अब उसे हमेशा के लिए बढ़ा दिया गया. शिक्षा मंत्रालय ने यह भी कहा है कि यह व्यवस्था 2011 से लागू होगी.

निशंक ने कहा, राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को उन उम्मीदवारों को नए सिरे से टीईटी प्रमाणपत्र जारी करने या जारी करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने की आवश्यकता होगी, जिनकी 7 वर्ष की अवधि पहले ही समाप्त हो चुकी है.

उन्होंने आगे कहा, शिक्षण क्षेत्र में करियर बनाने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाने की दिशा में यह एक सकारात्मक कदम होगा.

आपको बता दें, शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) एक उम्मीदवार के लिए स्कूलों में शिक्षक के रूप में नियुक्ति के लिए पात्र होने के लिए आवश्यक योग्यताओं में से एक है.


राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद ((NCTE) के 11 फरवरी, 2011 के दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि TET राज्य सरकारों द्वारा आयोजित की जाएगी और TEE प्रमाणपत्र की वैधता  TET पास करने की तारीख से 7 वर्ष थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com