JEE Main 2021 Exam Analysis: जानिए तीसरे दिन कितनी आसान और कितनी मुश्किल थी परीक्षा?

JEE Main 2021 Exam Analysis: जिन छात्रों ने आज पहली शिफ्ट में जेईई मेन पेपर 1 दिया है, उन्हें पेपर 'मध्यम' यानी औसत लगा. 

JEE Main 2021 Exam Analysis: जानिए तीसरे दिन कितनी आसान और कितनी मुश्किल थी परीक्षा?

इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा के लिए 6.5 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने पंजीकरण किया है.

नई दिल्ली:

JEE Main 2021 Exam Analysis: इंजीनियरिंग के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए जेईई मेन 2021 परीक्षा 23 फरवरी से शुरू हो गई है और कल 26 फरवरी तक चलेगी. जिन छात्रों ने आज पहली शिफ्ट में जेईई मेन पेपर 1 दिया है, उन्हें पेपर 'मध्यम' यानी औसत लगा. पेपर की कठिनाई की बात करें तो, मैथेमेटिक्स का सेक्शन मध्यम था, जबकि केमिस्ट्री तीनों सेक्शन में सबसे आसान था. परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों में कक्षा 11वीं और 12वीं के लगभग सभी प्रश्न कवर किए गए थे.

FIITJEE विशेषज्ञ Ramesh Batlish के अनुसार, "चैप्टर्स के कवरेज के हिसाब से छात्रों के अनुसार पेपर बैलेंस था. हालांकि, यह 24 फरवरी, 2021 को आयोजित पेपर की तुलना में कठिन था."

मैथेमेटिक्स का सेक्शन
मैथेमेटिक्स का सेक्शन मध्यम था. ज्यादातर सवाल कोऑर्डिनेट जियोमेट्री और अलजेब्रा से पूछे गए थे. कुछ न्यूमेरिकल बेस्ड सवालों के प्रश्नों के लिए लंबी कैलकुलेशन की आवश्यक थी. अलजेब्रा में वैक्टर, मैट्रिस, कॉम्प्लेक्स नंबर जैसे अध्याय को वेटेज दिया गया था.

फिजिक्स का सेक्शन
फिजिक्स का पेपर आसान से मध्यम स्तर का था. पेपर में सवाल ग्रेविटेशन, करंट इलेक्ट्रिसिटी और एसी सर्किट से पूछे गए थे. कुछ न्यूमेरिकल बेस्ड सवालों के प्रश्नों के लिए लंबी कैलकुलेशन की आवश्यकता थी, लेकिन वे आसान थे. थ्योरी बेस्ड सवाल NCERT के कक्षा 12वीं के चैप्टर्स से पूछे गए थे. 


केमिस्ट्री का सेक्शन
केमिस्ट्री का सेक्शन आसान था. प्रश्न केमिकल काइनेटिक्स, इलेक्ट्रोकेमिस्ट्री जैसे चैप्टर्स से थे. ऑर्गेनिक केमिस्ट्री को अधिक वेटेज दिया गया. इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री में NCERT के अधिकांश प्रश्न थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) देश भर के 852 परीक्षा केंद्रों पर दो शिफ्ट्स में JEE Main 2021 परीक्षाओं का पहला सत्र आयोजित कर रही है. इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा के लिए 6.5 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने पंजीकरण किया है.