JEE Main 2021 Analysis (Shift 2): छात्रों को BTech का पेपर आसान और बैलेंस लगा

JEE Main 2021 Question Paper Analysis (Shift 2): संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई मेन) की दूसरी शिफ्ट 24 फरवरी को दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक आयोजित की गई थी.

JEE Main 2021 Analysis (Shift 2): छात्रों को BTech का पेपर आसान और बैलेंस लगा

JEE Main 2021 question Paper: उम्मीदवारों ने मैथ्स सेक्शन को फिजिक्स और केमिस्ट्री की तुलना में आसान पाया.

नई दिल्ली:

JEE Main 2021 Question Paper Analysis (Shift 2): संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई मेन) की दूसरी शिफ्ट 24 फरवरी को दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक आयोजित की गई थी.  जेईई मेन परीक्षा की दूसरी शिफ्ट में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को पेपर आसान और बैलेंस लगा. उम्मीदवारों ने मैथ्स सेक्शन को फिजिक्स और केमिस्ट्री की तुलना में आसान पाया. पेपर प्रमुख रूप से NCERT सिलेबस पर आधारित था.

आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (AESL) के राष्ट्रीय शैक्षणिक निदेशक (इंजीनियरिंग) अजय कुमार शर्मा ने कहा कि प्रत्येक सब्जेक्ट के लगभग सभी टॉपिक्स से प्रश्न पूछे गए थे.

फिजिक्स का सेक्शन
फिजिक्स सेक्शन में कुल 30 प्रश्न थे, जिनमें से 20 मल्टीपल च्वॉइस क्वेश्चन (MCQ) थे, और 10 न्यूमेरिकल बेस्ड प्रश्न थे. पेपर में सेमीकंडक्टर से दो प्रश्न, परसेंटेज एरर से एक प्रश्न और एसी सर्किट से एक प्रश्न था.

केमिस्ट्री का सेक्शन
केमिस्ट्री के पेपर में कुल 30 प्रश्न थे, जिनमें से 10 मल्टीपल च्वॉइस क्वेश्चन (MCQ) थे और 10 न्यूमेरिकल बेस्ड प्रश्न थे. केमिस्ट्री में अधिकांश प्रश्न एस-ब्लॉक और इनऑर्गेनिक टॉपिक से पूछे गए थे. 


मैथ्स का सेक्शन
मैथ्स के सेक्शन में कुल 30 प्रश्न थे, जिनमें से 10  मल्टीपल च्वॉइस क्वेश्चन (MCQ) थे और 10 न्यूमेरिकल बेस्ड प्रश्न थे. मैथ्स का पेपर लंबा नहीं था और छात्र दिए गए समय के भीतर पूरा करने में सक्षम थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अधिकांश प्रश्न कोऑर्डिनेट ज्योमेट्री सेक्शन से पूछे गए थे, जबकि कुछ प्रश्न कैलकुलस पर आधारित थे.  मैट्रिसेस से केवल एक प्रश्न पूछा गया था और दो प्रश्न डिटर्मिननेंट वैक्टर और 3 डी से पूछे गए थे.