DU PG Admission 2021: पीजी पाठ्यक्रम में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू, जल्द करें अप्लाई

DU PG Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) में आज पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. कल करीब 39 पाठ्यक्रमों की पहली मेरिट लिस्ट जारी की गई थी.

DU PG Admission 2021: पीजी पाठ्यक्रम में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू, जल्द करें अप्लाई

DU PG Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय में पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू

नई दिल्ली:

DU PG Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) में आज पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. कल करीब 39 पाठ्यक्रमों की पहली मेरिट लिस्ट जारी की गई थी. जिसके बाद आज यानी 18 नवंबर से इन 39 पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. दिल्ली विश्वविद्यालय ने स्नातकोत्तर प्रवेश के लिए जो पहली मेरिट लिस्ट जारी की है. उसमें एमए अंग्रेजी, पर्यावरण अध्ययन, भूगोल, हिंदी,  इतिहास, पत्रकारिता जैसे  पीजी पाठ्यक्रम शामिल हैं. वहीं पहली मेरिट लिस्ट के आधार पर 18 से 21 नवंबर तक दाखिले किए जाने हैं. जबकि  23 नवंबर दोपहर एक बजे तक फीस का भुगतान करना है.

इस तरह से चेक करें मेरिट लिस्ट

डीयू पीजी की प्रथम मेरिट लिस्ट को entry.uod.ac.in पर जाकर देखा जा सकता है. इस लिंक पर 'स्नातकोत्तर प्रवेश' के तहत आपको 'पीजी प्रवेश सूची' लिखा हुआ दिखेगा. इस पर क्लिक करके आपको मेरिट लिस्ट दिख जाएगी. मेरिट लिस्ट को डाउनलोड कर आप अपना नाम इसमें खोज लें. अगर आपका नाम इसमें है तो आज एडमिशन के लिए अप्लाई कर दें. याद रखें की आवेदन करने की अंतिम तिथि 21 नवंबर की है.

26 नवंबर को आनी है दूसरी मेरिट लिस्ट

दिल्ली विश्वविद्यालय के अनुसार दूसरी मेरिट लिस्ट को 26 नवंबर को जारी किया जाएगा. जिसके आधार पर 27 से 29 नवंबर तक दाखिले किए जाएंगे. जबकि छात्र एक दिसंबर दोपहर एक बजे तक फीस का भुगतान कर सकते हैं. वहीं तीसरी सूची 3 दिसंबर को जारी की जाएगी. जिसके आधार पर 4 दिसंबर से लेकर 6 दिसंबर तक प्रवेश प्रक्रिया होगी. वहीं जरूरत लगने पर दिल्ली विश्वविद्यालय की ओर से चौथी मेरिट लिस्ट भी जारी की जा सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय की ओर से कुल 74 पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिले किए जाने हैं. 74 पाठ्यक्रमों में से अभी से सिर्फ 39 पाठ्यक्रमों के दाखिले शुरू हुए हैं.