Delhi Nursery School Admission: नर्सरी में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू, ये है अप्लाई करने की आखिरी तारीख

Delhi Nursery Admission 2022-23: दाखिले के लिए चयनित बच्चों की पहली सूची 4, फरवरी, 2022 को जारी कर दी जाएगी. उसके बाद 21, फरवरी, 2022 को दूसरी सूची को जारी किया जाएगा.

Delhi Nursery School Admission: नर्सरी में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू, ये है अप्लाई करने की आखिरी तारीख

दिल्ली में शुरू हुई नर्सरी स्कूलों में दाखिला लेने की प्रक्रिया, 7 जनवरी तक करें आवेदन

नई दिल्ली:

Delhi Nursery Admission: राष्ट्रीय राजधानी के निजी स्कूलों में नर्सरी कक्षाओं में दाखिले की प्रक्रिया बुधवार से शुरू हो गई है. नर्सरी कक्षा में दाखिला लेने के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 7, जनवरी, 2022 है. शिक्षा निदेशालय ने पिछले महीने ही दाखिला प्रक्रिया कार्यक्रम को अधिसूचित किया था. कोविड-19 महामारी के कारण पिछली बार नर्सरी दाखिला की प्रक्रिया फरवरी में ही शुरू हो सकी थी. हालांकि, इस साल कार्यक्रम पूर्व के वर्षों के अनुरूप है. शिक्षा निदेशालय के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘दाखिले के लिए चयनित बच्चों की पहली सूची 4, फरवरी, 2022 को जारी कर दी जाएगी. उसके बाद 21, फरवरी, 2022 को दूसरी सूची को जारी किया जाएगा. जबकि सीटों के शेष रह जाने पर 15 मार्च, 2022 को संभवत: अंतिम सूची जारी की जाएगी.दाखिले की पूरी प्रक्रिया 31 मार्च को समाप्त होगी.''

ये भी पढ़ें-  Delhi Nursery Admission 2022-23:15 दिसंबर से शुरू होगी दाखिला लेने की प्रक्रिया, पढ़ें शेड्यूल

स्कूलों को मंगलवार तक अपनी सीटों की संख्या और प्रवेश मानदंड को सूचित करने के लिए कहा गया था. शिक्षा निदेशालय ने निर्देश दिया है कि नर्सरी के लिए सीटों की संख्या पिछले तीन शैक्षणिक वर्षों – 2019-20, 2020-21 और 2021-22 के दौरान प्रवेश स्तर की कक्षाओं में सबसे अधिक सीटों से कम नहीं होगी. अधिकारी ने कहा, “हमने स्कूलों से कहा है कि अधिसूचित कार्यक्रम में किसी भी तरह के बदलाव की अनुमति नहीं दी जाएगी. प्रत्येक स्कूल अपने नोटिस बोर्ड और वेबसाइट पर प्रवेश कार्यक्रम प्रदर्शित करेगा. इसके अलावा, प्रत्येक स्कूल ये सुनिश्चित करेगा कि प्रवेश के लिए आवेदन-पत्र सभी आवेदकों को फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि तक उपलब्ध कराए जाएं.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि स्कूल ऐसे प्रवेश मानदंड विकसित करेंगे और अपनाएंगे जो निष्पक्ष, उचित, अच्छी तरह से परिभाषित, न्यायसंगत, गैर-भेदभावपूर्ण, स्पष्ट और पारदर्शी होंगे. संबंधित उप निदेशक की अध्यक्षता में प्रत्येक जिले में एक निगरानी प्रकोष्ठ का गठन किया जा रहा है, जो यह सुनिश्चित करेगा कि प्रत्येक निजी स्कूल अन्य शर्तों के अलावा अपने प्रवेश मानदंड और अंक ऑनलाइन मॉड्यूल पर अपलोड करे.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)