यह ख़बर 09 जुलाई, 2014 को प्रकाशित हुई थी

टीएमसी सांसद ने आपत्तिजनक बयान के लिए लोकसभा स्पीकर से मांगी माफी

नई दिल्ली:

संसद में तृणमूल सांसदों के हंगामे के चलते आज राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही को बार-बार स्थगित करना पड़ा। तृणमूल सांसदों का आरोप है कि बीजेपी सांसदों ने उनके साथ बदसलूकी की। वहीं बीजेपी सांसद हरि नारायण का कहना है कि टीएमसी के आरोप बेबुनियाद हैं और स्पीकर चाहें तो वीडियो फुटेज की जांच करवा लें। मंगलवार को सदानंद गौड़ा के रेल बजट में बीच−बीच में टोकाटोकी और नारेबाज़ी भी चलती रही, लेकिन असली हंगामा बाद में शुरू हुआ। टीएमसी के सांसदों ने बीजेपी के एक सांसद हरिनारायण राजभर पर धमकी देने का आरोप लगाया। यहां तक कह डाला कि वह नशे में लग रहे थे।

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सांसदों से शांति बनाए रखने की अपील की। वहीं इस मामले में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि सबको स्पीकर से फैसले की उम्मीद है।

वहीं संसदीय कार्यमंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि हम सब पार्टियों से अपील करते हैं कि वे देश हित में सोचें और हंगामा न करें।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी ने स्पीकर से दुख पहुंचाने के लिए माफी मांगी। उन्होंने कहा था कि आप सदन की स्पीकर हैं, मोदी की नहीं। इसके बाद सदन में जोरदार हंगामा शुरू हो गया, जिसके बाद कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी।

वहीं हंगामे के बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली आज मोदी सरकार का पहला आर्थिक सर्वे 2013−14 पेश किया।