सेंसेक्स में आया करीब 1 हजार अंकों का उछाल, निफ्टी भी बढ़त के साथ, बाजार में लौटी रौनक

यूरोपीय बाजारों में तेजी के बीच घरेलू शेयर बाजारों में पिछले छह दिन से जारी गिरावट का सिलसिला थम गया और उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 237 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ.

सेंसेक्स में आया करीब 1 हजार अंकों का उछाल, निफ्टी भी बढ़त के साथ, बाजार में लौटी रौनक

शेयर बाजार में तेजी का रुख दिखा और निवेशकों के चेहरे खिले

मुंबई:

शेयर बाजार (Stock Market) में मंगलवार को लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में ऊपर चढ़ा और सभी सेक्टरों में तेजी देखी गई. वैश्विक बाजारों से सकारात्मक रुख के असर से सेंसेक्स ने मंगलवार को करीब 1 हजार अंक (934 अंकों) की बढ़त हासिल की. जबकि निफ्टी भी बढ़त के साथ 15,600 अंकों पर पहुंच गया है. पिछले हफ्ते स्टॉक मार्केट में भारी बिकवाली का दौर देखा गया था और बाजार करीब 6 हजार अंक नीचे आया था. आज तेजी का रुख है. अन्य एशियाई बाजारों में सकारात्मक रुख का अनुसरण करते हुए प्रमुख बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी में मंगलवार को शुरुआती कारोबार में तेजी देखी गई. इस दौरान सेंसेक्स 438.48 अंक की बढ़त के साथ 52,036.32 पर कारोबार कर रहा था, जबकि निफ्टी 139.35 अंक चढ़कर 15,489.50 पर आ गया.

सेंसेक्स में टाइटन, डॉ रेड्डीज, टाटा स्टील, भारतीय स्टेट बैंक और एनटीपीसी बढ़त के साथ कारोबार किया. दूसरी ओर हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड, कोटक महिंद्रा बैंक और भारती एयरटेल गिरावट हुई. अन्य एशियाई बाजारों में हांगकांग, शंघाई, तोक्यो और सोयोल के बाजार मध्य सत्र के सौदों में हरे निशान में थे. इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल सूचकांक ब्रेंट क्रूड 0.96 प्रतिशत उछलकर 115.20 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया.

इससे पूर्व सोमवार को यूरोपीय बाजारों में तेजी के बीच घरेलू शेयर बाजारों में पिछले छह दिन से जारी गिरावट का सिलसिला थम गया और उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 237 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 237.42 अंक यानी 0.46 प्रतिशत की बढ़त के साथ 51,597.84 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान मानक सूचकांक 51,714.61 अंक के उच्च स्तर और 51,062.93 अंक के निचले स्तर तक आ गया था. इसी तरह, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 56.65 अंक यानी 0.37 प्रतिशत चढ़कर 15,350.15 अंक पर बंद हुआ. सेंसेक्स की कंपनियों में हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, विप्रो, अल्ट्राटेक सीमेंट, एशियन पेंट्स और एचडीएफसी बैंक के शेयर लाभ में रहे. वहीं, टाटा स्टील, इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एनटीपीसी और भारतीय स्टेट बैंक के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए.

1 जुलाई से बदलेंगे TDS के नियम, डॉक्टर और सोशल मीडिया इन्फ्लुएन्सर भी आएंगे दायरे में - जानें सब कुछ

जियोजित फाइनेंशल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि वैश्विक बाजारों में सकारात्मक रुझानों ने घरेलू बाजार को सकारात्मक रूप से व्यापार करने के लिए प्रेरित किया. इससे बड़ी कंपनियों के शेयर में सबसे अधिक लाभ हुआ, जबकि मिडकैप (मझोले) और स्मॉलकैप (छोटे) में गिरावट के साथ कारोबार जारी रहा. उन्होंने कहा कि मौजूदा मुद्रास्फीति दबाव और नीतिगत दरों के सख्त रहने की चिंताओं ने घरेलू बाजार में बढ़त को सीमित कर दिया. इसके अलावा बीएसई का स्मालकैप 2.95 प्रतिशत मिडकैप सूचकांक 1.39 प्रतिशत लुढ़क गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और चीन का शंघाई कंपोजिट नुकसान में रहे जबकि हांगकांग का हैंगसेंग सूचकांक लाभ के साथ बंद हुआ. यूरोपीय बाजारों में दोपहर कारोबार में तेजी का रुख था. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.06 प्रतिशत बढ़कर 113.2 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों का पूंजी बाजार से निकासी का सिलसिला जारी है. उन्होंने शुक्रवार को 7,818.61 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.