ब्लड कैंसर से जूझ रहीं किरण खेर ने दान किए 1 करोड़ रुपये, कहा- 'मुश्किल समय में अपने लोगों के साथ हूं'

ब्लड कैंसर से जूझ रही किरण खेर ने कोरोना की स्थिति देखते हुए 1 करोड़ रुपये दान दिए हैं.

ब्लड कैंसर से जूझ रहीं किरण खेर ने दान किए 1 करोड़ रुपये, कहा- 'मुश्किल समय में अपने लोगों के साथ हूं'

किरण खेर (Kirron Kher)

खास बातें

  • किरण खेर ने लोगों की मदद के लिए 1 करोड़ रुपये दान किए
  • कहा मुश्किल समय में अपने लोगों और चंडीगढ़ के साथ खड़ी हूं
  • अनुपम खेर ने दी किरण की हेल्थ अपडेट कहा अब वे बेहतर हैं
नई दिल्ली:

अनुपम खेर की पत्नी और चंडीगढ़ की सांसद किरण खेर (Kirron Kher) मल्टीपल मायलोमा कैंसर से जूझ रही हैं. यह एक प्रकार का ब्लड कैंसर होता है. बीमार होने के बावजूद भी उन्होंने कोरोना संक्रमण के इस संकट को देखते हुए मदद का हाथ आगे बढ़ाया है. उन्होंने सोशल मीडिया पर इस बात की जानकारी दी है. किरण लोगों की मदद के लिए आगे आई हैं. जिससे लोगों को वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की दिक्कत ना हो.

दरअसल एक्ट्रेस और लोकसभा सदस्य किरण खेर ने लोगों की मदद के लिए 1 करोड़ रुपये दान किए हैं. उन्होंने फैंस को जानकारी देते हुए लिखा- मैं मेंबर ऑफ पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलपमेंट स्कीम के तहत चंडीगढ़ पीजीआई को 1 करोड़ रुपये दान कर रही हूं इसकी मदद से  वेंटिलेटर और ऑक्सीजन के साथ ही और भी जरुरत की चीजों का इंतजाम हो सके. इसके साथ ही वे आगे कहती हैं कि मैं इस मुश्किल समय में अपने लोगों और चंडीगढ़ के साथ खड़ी हूं. हम इस कठिन समय से जरूर बाहर निकलेंगे. बता दें कि ये राशि अपने सांसद निधि कोष से दी है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अनुपम खेर ने दी किरण की हेल्थ अपडेट 
बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर ने अपनी पत्नी की हेल्थ अपडेट इंस्टाग्राम पर लाइव आकर दी थी. उन्होंने फैंस के कई सवालों के जवाब दिए थे. इस दौरान उन्होंने किरण की हेल्थ के बारे में बताया कि किरण अब पहले से बेहतर हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मायलोमा की दवाइयां होती हैं इसके साइड इफेक्ट भी देखने को मिलते हैं, लेकिन हां वे अब ठीक हैं वे सही जगह पर हैं. उनका ईलाज चल रहा है. वे इस जंग से लड़कर और भी स्वस्थ होकर जल्द आएंगी. बता दें कि पिछले दिनों जब किरण खेर की बीमारी का पता चला था तो अफवाहें ये भी थीं कि स्थिति बिगड़ रही है जिसके बाद बेटा सिकंदर ने जानकारी दी थी की उन्हें मायलोमा है, वे जल्द ठीक होकर घर आएंगी.