मिर्जापुर से लेकर पाताल लोक तक के वो एक्टर जिन्हें ओटीटी से मिली पहचान, आज दर्शकों की हैं नंबर वन चॉइस

ऐसे एक नहीं कई सितारे हैं जो फिल्मी पर्दे पर साइड एक्टर बन कर रह गए, लेकिन जब ओटीटी पर मौका मिला तो छाप छोड़ने में जरा भी पीछे नहीं रहे. नवाजुद्दीन सिद्दीकी और पंकज त्रिपाठी सरीखे एक्टर्स को भी ओटीटी ने दमदार पहचान दी है.

मिर्जापुर से लेकर पाताल लोक तक के वो एक्टर जिन्हें ओटीटी से मिली पहचान, आज दर्शकों की हैं नंबर वन चॉइस

इन एक्टर्स को ओटीटी ने दी पहचान, आज घर-घर में जानते हैं लोग

नई दिल्ली:

बॉलीवुड के आकाश में जो एक्टर्स सही चमक नहीं पा सके. ओटीटी उनके लिए नई फलक बनकर उभरा है. जहां उनकी चमक में निखार है और उनका हुनर भी बुलंदियों को छू रहा है. ऐसे एक नहीं कई सितारे हैं जो फिल्मी पर्दे पर साइड एक्टर बन कर रह गए, लेकिन जब ओटीटी पर मौका मिला तो छाप छोड़ने में जरा भी पीछे नहीं रहे. नवाजुद्दीन सिद्दीकी और पंकज त्रिपाठी सरीखे एक्टर्स को भी ओटीटी ने दमदार पहचान दी है. चलिए जानते हैं ऐसे और भी सितारे जिन्होंने ओटीटी पर मचाया है धमाल 

विक्रांत मैसी

छोटे पर्दे और फिर बड़े पर्दे पर किस्मत आजमाने के बाद विक्रांत मैसी ने ओटीटी पर कोशिश की. यहां उनके हुनर को सही पहचान और सही स्पेस मिली. क्रिमिनल जस्टिस, मेड इन हेवन, ब्रोकन बट ब्यूटीफुल और मिर्जापुर जैसी वेब सीरीज के जरिए वो घर घर के फेवरेट बन गए.

जयदीप अहलावत

पाताल लोक का हाथी सिंह याद है आपको. एक हारा हुआ पुलिसवाला, जिसे आखिरी केस जीतना है बस. ये जीत सिर्फ एक केस की नहीं थी बल्कि खुद को साबित करने की जीत भी थी शायद, जिसमें जयदीप अहलावत पूरी तरह सफल हुए और एक अलग पहचान बनाने में कामयाब भी हुए.

अभिषेक बनर्जी

अभिषेक बनर्जी ने यूं तो कई फिल्मों में काम किया. स्त्री और ड्रीम गर्ल जैसी फिल्मों में उनकी एक्टिंग के चर्चे भी हुए. लेकिन जो पहचान ओटीटी ने दिलाई वैसी पहचान फिल्मों से नहीं मिली. पाताल लोक में जयदीप अहलावत ने तालियां बटोरी तो अभिषेक बनर्जी के हिस्से में भी जमकर कर तारीफें आईं.

दिव्येंदु शर्मा

मिर्जापुर के फूलचंद मुन्ना त्रिपाठी याद हैं आपको. इन्हें भला भूल भी कैसे सकते हैं. मिर्जापुर के कई कैरेक्टर हिट हुए हैं जिसमें से दिव्येंदु शर्मा भी एक हैं. जो फिल्मों में भले ही कम नोटिस हुए लेकिन ओटीटी पर नकारे नहीं जा सके.

रसिका दुग्गल

फिल्मों में अनरजिस्टर्ड रहीं रसिका दुग्गल को ओटीटी पर अनदेखा कर पाना मुश्किल हुआ. आउट ऑफ लव जैसी वेबसीरीज हो या हमीदा बाई की कोठी और लूट केस जैसी ओटीटी फिल्मों के जरिए उन्होंने अपनी एक्टिंग का हर पहलू दिखाया है.

जितेंद्र कुमार

शुभ मंगल ज्यादा सावधान के अमन त्रिपाठी या कोटा फैक्ट्री के जीतू भैया और पंचायत के अभिषेक त्रिपाठी. जितेंद्र कुमार का कौन सा किरदार आपको सबसे पहले याद आता है. वेब सीरीज के किरदार ही एकदम याद आते हैं न. ये कहना गलत नहीं होगा कि जितेंद्र कुमार ओटीटी पर जमकर छाए हुए हैं.

शारिब हाशमी

द फैमिली मैन, असुर, स्कैम 1992, द ग्रेट इंडियन मर्डर- शारिब हाशमी का नाम सुनकर कोई फिल्म याद आए या न आए. लेकिन इन वेब सीरीज के नाम आप भुला नहीं पाएंगे. शारिब हाशमी की एक्टिंग को लोगों तक पहुंचाने में ये वेब सीरीज कारगर रही हैं.

श्रिया पिलगांवकर

सचिन और सुप्रिया पिलगांवकर की बेटी को फिल्मों से कितनी पहचान मिली कहना मुश्किल है. लेकिन वेब सीरीज में अपनी एक्टिंग से जान डालने में कामयाब रही हैं श्रिया पिलगांवकर. मिर्जापुर, मर्डर इन अगोंडा, गिल्टी माइंड्स, द ब्रोकन न्यूज- श्रिया पिलगांवकर की कैप पर एक नहीं कामयाबी के कई पंख सजे हैं.

श्वेता त्रिपाठी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मसान फिल्म में श्वेता त्रिपाठी की एक्टिंग देखकर लगा था कि फिल्मों में उनका सितारा खूब चमकेगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. इसके बदले वो ओटीटी पर ये काली काली आंखें, मिर्जापुर, मेड हेवन, मिर्जापुर जैसी वेब सीरीज करके छाईं रहीं.