Work From Home : घर पर हैं सब तो यूं बिताएं समय, ताकि परिवार में बढ़े नजदीकियां

काश घर पर रह कर ही काम करने का मौका मिल जाता. ये काश इन दिनों हकीकत बना हुआ है. घर में ही रह कर काम करने का मौका मिल रहा है. ऐसे में एक सिंपल रूटीन फॉलो कीजिए बस फिर देखिए परिवार के साथ भी वक्त बिता सकेंगे और ऑफिस का काम भी कर सकेंगे.

Work From Home : घर पर हैं सब तो यूं बिताएं समय, ताकि परिवार में बढ़े नजदीकियां

ऑफिस का काम करें या घर का. पर फैम‍िली को दें पूरा समय

नई दिल्‍ली :

जब ऑफिस खुलते हैं तो लगता है कि काश घर पर रह कर ही काम करने का मौका मिल जाता. ये काश इन दिनों हकीकत बना हुआ है. घर में ही रह कर काम करने का मौका मिल रहा है. पर जैसा सोचा था वैसा नहीं. जब से घर में काम कर रहे हैं ये कंफ्यूजन बढ़ गया है कि ऑफिस का काम करें या घर का काम करें. कैसे अपनों के साथ वक्त बिताएं. यकीन मानें कि टाइम मैनेजमेंट इतना मुश्किल है नहीं, जितना देखने में लगता है. एक सिंपल रूटीन फॉलो कीजिए बस फिर देखिए परिवार के साथ भी वक्त बिता सकेंगे और ऑफिस का काम भी कर सकेंगे.

सुबह जल्दी उठने का रूटीन बनाएं

ऑफिस जाना नहीं हैं, बच्चों के स्कूल भी बंद है. ऐसे में सबसे बुरा असर सुबह जागने के समय पर पड़ा है. देर तक सोने की आदत ने पूरा शेड्यूल बिगाड़ दिया है. आप में से बहुतों की यही शिकायत होगी. इसलिए सबसे पहले तो सुबह का एक टाइम निश्चित करें और उस पर उठने की आदत बनाएं.

फैमिली फिटनेस टाइम

आपको ऐसा समय शायद ही कभी दोबारा मिले जब पूरी फैमिली एक साथ मिलकर एक्सरसाइज कर सकें. बच्चों को स्कूल जाना नहीं है. ऐसे में सुबह उन्हें भी अपने साथ उठाएं और कुछ ऐसी हल्की फुल्की एक्सरसाइज करें जिससे फिट भी रहें और सुबह की शुरुआत एक चियरफुल फैमिली टाइम के साथ हो.

ऐसे करें लंच की तैयारी

आमतौर पर जब आप ऑफिस के लिए निकलते हैं तो लंच साथ लेकर निकलते हैं. यही आदत बना कर रखें. सुबह ब्रेकफास्ट और लंच एक साथ तैयार करें. ब्रेकफास्ट करने के बाद अपने ऑफिस के काम में लग जाएं. लंच टाइम पर उठें. पूरा परिवार फिर एक साथ बैठे और लंच करे. याद रखें इस दौरान टीवी और मोबाइल दोनों से दूर रहना है. लंच पहले से बना होगा तो ऐन टाइम पर खाने बनाने की जल्दबाजी भी नहीं होगी.

पावर नैप से बनेगी बात

खाना खाने के बाद तो मन होता ही कि थोड़ा सुस्ता लें. ये अच्छा मौका है जब पूरा परिवार कुछ समय की झपकी ले सकता है. इस पावर नेप के बाद आपको तो काम पर वापस लौटना है. पर बच्चे क्या करेंगे. उन्हें इस वक्त आदत डालें कि वो ये समय अपनी स्टडीज को दें. माना कि ऑफिस वर्क में बिजी होने  नाते आप उन्हें पढ़ा नहीं सकते. पर मॉनिटरिंग तो कर ही सकते हैं. ऐसे में बच्चों की भी आदत बनेगी एक निश्चित समय पढ़ाई करने की.

खेलना भी जरूरी है

जाहिर सी बात है कोरोना के डर से बच्चे बाहर भी खेलने नहीं जा रहे. ऐसे में जरूरी है कि आप एक बार फिर अपने काम से कुछ देर का ब्रेक लें और घर में बच्चों को खिलाने के तरीके ढूंढे. आप उनके साथ एक्टिविटी गेम खेल सकते हैं. या फिर साइंस के किसी मजेदार एक्सपेरिमेंट में भी उन्हें इंगेज कर सकते हैं.

टीवी टाइम

इसे प्ले टाइम के बाद बच्चे तो फिर फ्री पर आपको तो काम पर वापस लौटना है. ये टाइम बच्चे अगर आपस में खेलना चाहें तो अलग बात है. वर्ना थोड़ी देर टीवी देखने में बुराई ही क्या है. आप अपने ऑफिस का काम निपटाएं. झटपट डिनर की तैयारी करें. और फिर पूरा परिवार एक साथ बैठ कर डिनर करे.


बच्चे भी हाथ बंटाए

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आप अपने बच्चों में भी घर के छोटे मोटे काम करने आदत डेवलप करें. आप चाहें तो उनकी ड्यूटी भी बांध सकते हैं. जैसे अपने कपड़े वही फोल्ड करेंगे. या अपनी स्टडी टेबल को क्लीन रखना उनकी ड्यूटी है. बच्चे थोड़े समझदार हैं तो इजी कुकिंग की भी आदत डालें. आखिर अपने सामने उन्हें ये चीजें सिखाने का मौका दोबारा कब मिलेगा. इसलिए जब आप ऑफिस के काम में बिजी हों उन्हें घर के कुछ काम खुद ही करने दें.