यूपी चुनाव से पहले सरकार ने छात्रों को दी बड़ी सौगात, फ्री में दिए जाएंगे स्मार्टफोन और टैबलेट

उत्तर प्रदेश सरकार अपने राज्य के युवाओं को निशुल्क स्मार्टफोन और टैबलेट देने वाली है और इनके वितरण के लिए डीजी शक्ति नाम से एक पोर्टल बनाया गया है. जिसे जल्द ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लॉन्च करेंगे.

यूपी चुनाव से पहले सरकार ने छात्रों को दी बड़ी सौगात, फ्री में दिए जाएंगे स्मार्टफोन और टैबलेट

यूपी सरकार छात्रों को फ्री में देने वाली है स्मार्टफोन और टैबलेट

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश सरकार अपने राज्य के युवाओं को निशुल्क स्मार्टफोन और टैबलेट देने वाली है और इनके वितरण के लिए डीजी शक्ति नाम से एक पोर्टल बनाया गया है. जिसे जल्द ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लॉन्च करेंगे. जानकारी के अनुसार दिसंबर के दूसरे सप्ताह से युवाओं को निशुल्क स्मार्टफोन और टैबलेट दिए जाएंगे. एक सरकारी बयान के मुताबिक पोर्टल के माध्यम से स्मार्टफोन और टैबलेट का वितरण किया जाएगा और छात्रों को भविष्य में पढ़ाई के लिए विषय वस्तु दी जाएगी. इसके अलावा स्मार्टफोन और टैबलेट के बारे में समय-समय पर छात्रों को उनके मोबाइल नंबर और मेल पर सूचना दी जाएगी. 

समाजवादी पार्टी ने बीजेपी पर छात्रों को लैपटॉप और टैबलेट उपलब्ध कराने के चुनावी वादे को पूरा न करने का आरोप लगाया था. सपा का कहना था कि मुख्यमंत्री आदित्यनाथ खुद लैपटॉप संचालित करने में असमर्थ हैं. इसलिए वो इसे बांटने में रूचि नहीं ले रहे हैं. सपा प्रमुख ने 29 अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में इंटर-कॉलेज में आयोजित एक समारोह में कहा था कि अगर वो (आदित्यनाथ) लैपटॉप चलाना जानते होते. तो वो उन्हें पहले ही वितरित कर देते.

दरअसल साल 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी के घोषणापत्र में कहा गया था कि आगे की पढ़ाई करने वाले छात्रों को मुफ्त डेटा के साथ लैपटॉप और टैबलेट कंप्यूटर दिए जाएंगे और उन संस्थानों में वाई-फाई कनेक्शन स्थापित किए जाएंगे.

वहीं यूपी सरकार की ओर से मंगलवार को जारी एक बयान के मुताबिक पंजीकरण से लेकर स्मार्टफोन और टैबलेट वितरण (UP Free Tablet Yojana 2021) तक पूरी व्यवस्था निशुल्क होगी. सरकार की ओर से स्मार्टफोन और टैबलेट की खरीद के लिए जेम पोर्टल पर अब तक का सबसे बड़ा टेंडर जारी किया गया है. 47 सौ करोड़ की लागत से खरीदे जाने वाले स्मार्टफोन और टैबलेट के लिए कई नामी कंपनियों ने टेंडर भरा है. टैबलेट के लिए विशटल (आईरिस), सैमसंग (विजन) और एसर (सेलकॉन), स्मार्टफोन के लिए लावा, सैमसंग (सेलकॉन) और सैमसंग (यूनाइटेड) ने टेंडर दाखिल किया है. तकनीकी जांच के बाद योग्य फर्मों की वित्तीय निविदा खोली जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बयान के मुताबिक टेंडर में चयनित कंपनियों को पहली खेप में कम से कम ढाई लाख टैबलेट की आपूर्ति करनी होगी. हालांकि स्मार्टफोन के लिए चयनित कंपनियों को पहली खेप में कम से कम पांच लाख स्मार्टफोन की आपूर्ति करनी होगी. इस वर्ष 23 अक्टूबर को,मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उनकी सरकार नवंबर के अंत तक युवाओं के बीच टैबलेट और स्मार्टफोन का वितरण शुरू कर देगी. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)