Chevening Scholarship 2022: यूके ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस पर 75 छात्रवृत्तियों की घोषणा की

भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस पर 75 छात्रवृत्तियों की घोषणा, Chevening HSBC Scholarship के तहत मिलेगी छात्रवृति.

Chevening Scholarship 2022: यूके ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस पर 75 छात्रवृत्तियों की घोषणा की

Chevening Scholarship 2022

नई दिल्ली :

ब्रिटिश उच्चायोग (बीएचसी) ने कहा कि यूके सरकार ने भारतीय छात्रों को सितंबर से यूके में अध्ययन करने के लिए 75 पूरी तरह से वित्त पोषित छात्रवृत्ति देने के लिए भारत में प्रमुख व्यवसायों के साथ भागीदारी की है. बीएचसी ने एक बयान में कहा कि यह अब तक एक वर्षीय मास्टर कार्यक्रम के लिए दी जाने वाली सबसे अधिक वित्त पोषित छात्रवृत्ति है. उच्चायोग ने कहा कि एचएसबीसी, पियर्सन इंडिया, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाटा संस और डुओलिंगो जैसी कंपनियां भारत की आजादी के 75वें वर्ष का जश्न मनाने के लिए इस विशेष पहल साथ दे रही हैं.

एक साल के मास्टर कार्यक्रम के लिए Chevening Scholarship शामिल है, जिसके माध्यम से किसी भी मान्यता प्राप्त यूके विश्वविद्यालय में किसी भी विषय का अध्ययन करने का अवसर मिलता है. इसके अलावा, भारत में ब्रिटिश काउंसिल विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (एसटीईएम) में महिलाओं के लिए कम से कम 18 छात्रवृत्ति दी जा रही है - जिसमें 150 से अधिक यूके विश्वविद्यालयों में 12,000 से अधिक पाठ्यक्रम शामिल हैं. इनके साथ ही ब्रिटिश काउंसिल छह अंग्रेजी स्कॉलरशिप भी दे रही है.

ये भी पढ़ें- क्यूएस रैंकिंग: क्यूएस बेस्ट स्टूडेंट सिटीज रैंकिंग में देश के 4 बड़े शहर, जानिए कौन से हैं ये शहर  

पश्चिम बंगाल सरकार ने स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए केंद्रीकृत ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया को समाप्त किया

यह घोषणा ऐसे समय में आई है जब अंतरराष्ट्रीय व्यापार और ब्रिटिश एवं भारतीय नेता इंडिया ग्लोबल फोरम के लिए लंदन में एकत्र हुए हैं.

इंडिया ग्लोबल फोरम में बोलते हुए, भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त (British High Commissioner) एलेक्स एलिस ने कहा: "भारत के 75 वें स्वतंत्रता दिवस पर यह एक साथ एक बहुत बड़ा मील है. उद्योग में हमारे भागीदारों के असाधारण समर्थन के लिए धन्यवाद, भारतीय छात्रों के लिए यूके का सर्वश्रेष्ठ अनुभव प्राप्त करने के लिए मुझे 75 छात्रवृत्ति की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है. भारत में लगभग 30 प्रतिशत शेवनिंग स्कॉलर्स छोटे शहरों से आते हैं और ये पहली पीढ़ी के छात्र हैं, जिससे यह तेजी से विविध कार्यक्रम बन रहा है."

एचएसबीसी के सीईओ हितेंद्र दवे ने कहा: "हम 'Chevening HSBC Scholarship' कार्यक्रम के लिए शेवनिंग के साथ साझेदारी करके खुश हैं. हमारा उद्देश्य युवाओं को अपने क्षेत्र में नेतृत्व करने वाला और निर्णय लेने वाला बनाने की क्षमता को प्रोत्साहित करना है. इस कार्यक्रम के तहत विश्व स्तरीय शैक्षिक सुविधाएं प्रदान की जाती हैं. भारत के सार्थक पीढ़ी और विरासत के साथ एक ब्रिटिश बैंक के रूप में, हमारा मानना है कि देश में नेतृत्व करने की प्रतिभा को विकसित करने में हमें एक सार्थक भूमिका निभानी है।"

अपनी हाल की भारत यात्रा के दौरान, ब्रिटेन के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने दोनों देशों के बीच समृद्ध सांस्कृतिक संबंधों को बढ़ावा देते हुए 'India/UK Together' कार्यक्रम का स्वागत किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शिक्षा यूके और भारत के बीच एक मुख्य आधार है जो हमारे लोगों को समान मूल्यों और समानता के माध्यम से जोड़ता है. मार्च 2022 में लगभग 108,000 भारतीय नागरिकों को अध्ययन वीजा जारी किए गए, जो पिछले वर्ष की तुलना में लगभग दोगुना है.