छात्रों के विरोध के बाद, कोरोना संकट में महाराष्ट्र में आयोजित हुई पब्लिक सर्विस कमीशन प्रीलिम्स परीक्षा

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) ने रविवार को राज्य सेवाओं के लिए अपनी प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की, जिसमें कोविड -19 प्रोटोकॉल से संबंधित सभी मानक संचालन प्रक्रियाएं थीं.

छात्रों के विरोध के बाद, कोरोना संकट में महाराष्ट्र में आयोजित हुई पब्लिक सर्विस कमीशन प्रीलिम्स परीक्षा

नई दिल्ली:

Public Service Commission Prelim exam 2021: महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) ने रविवार को राज्य सेवाओं के लिए अपनी प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की, जिसमें कोविड -19 प्रोटोकॉल से संबंधित सभी मानक संचालन प्रक्रियाएं थीं.

इससे पहले, राज्य सरकार ने कोविड -19 मामलों को बढ़ाने के मद्देनजर परीक्षा स्थगित कर दी थी. यह परीक्षा पहले 14 मार्च को निर्धारित की गई थी और 21 मार्च को अंतिम तिथि निर्धारित करने से पहले 11 मार्च को पुनर्निर्धारित किया गया था.

हालांकि, राज्य भर के छात्रों ने परीक्षा को स्थगन करने के लिए  विरोध किया था, लेकिन सरकार ने 21 मार्च को परीक्षा की अंतिम तारीख फाइनल की.  पुणे में एक परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थी मास्क पहने और सोशल डिस्टेसिंग बनाए रखते हुए दिखे.

बता दें, नागपुर में, कोविड -19 मामलों में वृद्धि के कारण शहर में लगाए गए एक पूर्ण लॉकडाउन के बीच परीक्षा हुई. सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार उचित सावधानी बरतते हुए राज्य भर के विभिन्न केंद्रों पर परीक्षा हुई. उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्रों पर सोशल डिस्टेसिंग बनाए रखने और मास्क पहनने के लिए भी कहा गया है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com