IIT Madras से पढ़ने का शानदार मौका, शुरू हुआ पहला ऑनलाइन BSc डिग्री कोर्स

आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने कोरोनावायरस महामारी के दौर में एक नई पहल की है. आईआईटी मद्रास ने बीएससी (BSc) का ऑनलाइन डिग्री प्रोग्राम शुरू किया है.

IIT Madras से पढ़ने का शानदार मौका, शुरू हुआ पहला ऑनलाइन BSc डिग्री कोर्स

IIT Madras ने शुरू किया पहला ऑनलाइन BSc डिग्री कोर्स.

नई दिल्ली:

आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने कोरोनावायरस महामारी के दौर में एक नई पहल की है. आईआईटी मद्रास ने बीएससी (BSc) का ऑनलाइन डिग्री प्रोग्राम शुरू किया है. ये डिग्री प्रोगामिंग एंड डाटा साइंस (Programming and Data Science) में कराई जाएगी. ये पहली बार है जब आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ऑनलाइन बीएससी डिग्री प्रोग्राम (Online Bsc Degree Programme) शुरू कर रहा है. आईआईटी ने कहा है कि इस ऑनलाइन डिग्री प्रोग्राम के जरिए हम छात्रों को जहां भी वो रहते हैं वहां पढ़ा सकेंगे. 

आईआईटी मद्रास के डारेक्टर प्रोफेसर भास्कर राममूर्ति ने कहा, ''आईआईटी मद्रास ग्रेजुएट्स के लिए एक पूरी तरह से ऑनलाइन कार्यक्रम शुरू कर रहा है, जिसकी आजकल बहुत डिमांड है. ये प्रोग्रामिंग और डेटा विज्ञान के क्षेत्र में रोजगार के लिए फायदेमंद होगा. ये ऑनलाइन लर्निंग और इन-पर्सन असेसमेंट का कॉम्बिनेशन है.  मुझे यकीन है कि यह प्रोग्राम भारतीय शिक्षा के क्षेत्र में आने वाले वक्त में गेम चेंजर साबित होगा. साथ ही इसके जरिए दूसरे संस्थानों को भी इस तरह के ऑनलाइन प्रोग्राम शुरू करने की प्रेरणा मिलेगी.''

कौन ले सकता है एडमिशन

इस डिग्री प्रोग्राम को सेकंड डिग्री के तौर पर भी किया जा सकता है. यानी जो छात्र अभी भी कॉलेज में पढ़ाई कर रहे हैं, वो भी इसमें एडमिशन ले सकते हैं. इसके अलावा जो छात्र ड्रॉप आउट हो या बेचलर डिग्री पूरी कर चुके हों वो इसमें अप्लाई कर सकते हैं. इसमें उम्र या सब्जेक्ट की कोई बाध्यता नहीं है. डिग्री के साथ ही डिप्लोमा इन प्रोग्रामिंग, डिप्लोमा इन डाटा साइंस भी किया जा सकता है. जो भी ये डिग्री या डिप्लोमा लेंगे वो आईआईटी मद्रास का हिस्सा माने जाएंगे. 

कैसे मिलेगा एडमिशन 

एडमिशन पाने के लिए 4 हफ्ते का ऑनलाइन कोर्स और असाइनमेंट पूरे करने होंगे. जो छात्र वीकली असाइमेंट में पासिंग मार्क्स ला पाएंगे, उन्हें क्वालीफायर एग्जाम का मौका दिया जाएगा. जो छात्र क्वालिफायर एग्जाम में पासिंग मार्क्स लाएंगे, उन्हें ही फाउंडेशनल लेवल कोर्स में रजिस्ट्रेशन का मौका मिलेगा. फाउंडेशनल लेवल में 8 कोर्स होंगे. जबकि डिप्लोमा लेवल पर 6 प्रोग्रामिंग कोर्स और 6 डाटा साइंस कोर्स रहेंगे. जबकि डिग्री लेवल पर 11 कोर्स रखे गए हैं. 

एडमिशन से जुड़ी जरूरी डेट्स अभी फाइनल नहीं की गई हैं. रेगुलर कोर्स के लिए कब से रजिस्ट्रेशन होंगे ये तय नहीं किया गया, लेकिन ये तमाम रजिस्ट्रेशन 15 सितंबर 2020 से पहले कर लिए जाएंगे. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही रजिस्ट्रेशन ओपन हो जाएंगे.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com