Petrol-Price Today: पेट्रोल-डीजल के दामों में राहत बरकरार, चेक करें आज के लेटेस्ट रेट

Petrol-Price Today: 21 मई को सरकार की तरफ से उत्पाद शुल्क यानी एक्साइज ड्यूटी में कटौती की गई थी. जिसके बाद पेट्रोल और डीजल के दाम में गिरावट दर्ज हुई थी. तभी से आम लोगों को राहत मिली हुई है और इनके दाम स्थिर बने हुए हैं.

Petrol-Price Today: पेट्रोल-डीजल के दामों में राहत बरकरार, चेक करें आज के लेटेस्ट रेट

Petrol-Price Today: आज भी तेल विपणन कंपनियों ने तेल के दामों में कोई बदलाव नहीं किया है.

नई दिल्ली:

Petrol Diesel Price: सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के आज के  रेट जारी कर दिए हैं और इनके दामों में कोई बदलाव नहीं हुआ है. दरअसल 21 मई को सरकार की तरफ से उत्पाद शुल्क यानी एक्साइज ड्यूटी में कटौती की गई थी. जिसके बाद पेट्रोल और डीजल के दाम में गिरावट दर्ज हुई थी. पेट्रोल 9 और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर से ज्‍यादा सस्‍ता हो गया था. तभी से आम लोगों को राहत मिली हुई है और इनके दाम स्थिर बने हुए हैं. आइए जानते हैं कि आपके शहर में पेट्रोल और डीजल के आज के दाम क्या है.

आज 4 जुलाई, 2022 को भी तेल विपणन कंपनियों ने तेल के दामों में कोई बदलाव नहीं किया है. कुछ प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल के ये ताजा रेट चल रहे हैं- 

शहरपेट्रोलडीज़ल
दिल्ली96.7289.62
कोलकाता106.0392.76
मुंबई109.2795.84
चेन्नई102.6394.24
नोएडा96.7989.96
लखनऊ96.7989.76
पटना107.2494.04
जयपुर108.4893.72
स्रोत : इंडियन ऑयल

चेक कर लीजिए अपने शहर में तेल के दाम

देश में अंतरराष्ट्रीय कच्चा तेल बाजार के दामों के मुताबिक हर रोज ईंधन तेल के घरेलू दाम संशोधित होते हैं. ये नए दाम हर रोज सुबह 6 बजे लागू हो जाते हैं. आप घर बैठे भी ईंधन की कीमत का पता कर सकते हैं. घर बैठे तेल की कीमत पता करने के लिए आपको इंडियन ऑयल मैसेज सेवा के तहत मोबाइल नंबर 9224992249 पर SMS भेज सकते हैं. दरअसल अलग-अलग राज्यों में पेट्रोल और डीजल की कीमतें वैट और माल ढुलाई शुल्क के आधार पर अलग होती हैं.

बता दें कि सरकार ने हाल ही में पेट्रोल और ATF (Aviation Turbine Fuel) के निर्यात पर 6 रुपये प्रति लीटर की दर से टैक्स लगाया है और डीजल के निर्यात पर 13 रुपये प्रति लीटर का टैक्स लगाया गया है. सरकारी अधिसूचना के मुताबिक सरकार ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की ऊंची कीमतों से उत्पादकों को होने वाले अप्रत्याशित लाभ के एवज में घरेलू रूप से उत्पादित कच्चे तेल पर 23,230 रुपये प्रति टन का अतिरिक्त टैक्स लगाया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


निर्यात पर टैक्स तेल रिफाइनरी विशेषकर निजी क्षेत्र के लिए है जिन्हें यूरोप और अमेरिका जैसे बाजारों में ईंधन का निर्यात करने पर खासा लाभ मिलता है. वहीं घरेलू स्तर पर कच्चे तेल का उत्पादन करने पर लगाया गया कर स्थानीय उत्पादकों के लिए है. जिन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की ऊंची कीमतों से अप्रत्याशित लाभ मिल रहा है. इन नए टैक्स के लागू होने का असर फ्यूल के घरेलू दाम पर नहीं पड़ेगा.