रणबीर कपूर से रणवीर सिंह तक जो हुए बेकाबू, सीन कट होने के बाद भी करते रहे किस, इस हीरोइन ने तो जड़ दिया था थप्पड़

बॉलीवुड में किसिंग सींस हमेशा से चर्चा में रहे हैं. कुछ स्टार्स किस करने में इतने खो जाते हैं कि ऑनस्क्रीन-ऑफस्क्रीन का फर्क ही भूल जाते हैं.

रणबीर कपूर से रणवीर सिंह तक जो हुए बेकाबू, सीन कट होने के बाद भी करते रहे किस, इस हीरोइन ने तो जड़ दिया था थप्पड़

कट बोलने के बाद भी नहीं रुके ये बॉलीवुड स्टार्स

नई दिल्ली :

बॉलीवुड में बोल्ड सीन को भुनाने का चलन काफी लंबे समय से चल रहा है. बॉलीवुड के स्टार्स भी इन इंटिमेट सीन्स को करने में कोई परहेज नहीं करते बल्कि कई बार ये स्टार्स इन बोल्ड सीन में इतने खो जाते हैं कि उन्हें डायरेक्टर के कट बोलने की आवाज भी सुनाई नहीं देती. ऐसे ही कुछ स्टार्स के बारे में हम यहां बताने रहे हैं, जो सीन के खत्म होने के बाद भी किस और बोल्ड सीन करने में खोए रहे.

दीपिका-रणवीर 

आपको संजय लीला भंसाली की फ़िल्म ‘गोलियों की रासलीला' तो याद ही होगी. इसमें दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह का किसिंग सीन चल रहा था. उस टाइम दोनों एक दूसरे को डेट भी कर रहे थे. फ़िल्म के दौरान सीन डायरेक्टर ने कट भी कर दिया लेकिन स्टार अपने होश खो बैठे और एक दूसरे को किस करते रहे.

टाइगर श्रॉफ-सिद्धार्थ मल्होत्रा-जैकलीन

जैकलीन फर्नांडिस के नाम से तो आप सभी वाकिफ ही हैं. टाइगर श्रॉफ के साथ ‘फ्लाइंग जट' तो सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ ‘ए जेंटलमैन' फ़िल्म में वे किसिंग सीन करते वक्त ये भूल गईं कि ये रील लाइफ है, रियल लाइफ नहीं और किस करती रहीं.

रणबीर कपूर

ये बात है फ़िल्म 'ये जवानी है दीवानी' की. रणवीर कपूर का एवलीन शर्मा के साथ किसिंग सीन था. डायरेक्टर के कट बोलने पर भी रणबीर नहीं रुके थे और एवलीन को किस करते रहे.

माधुरी-जया प्रदा-रंजीत 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

कई बार बोल्ड सीन में स्टार्स इतने खो जाते हैं कि उन्हें पता ही नहीं रहता कि ये हीरोइन हैं,पत्नी नहीं. ऐसा ही वाक्या माधुरी दीक्षित के साथ प्रेम प्रतिज्ञा में हुआ. रंजीत बोल्ड सीन करने में बेकाबू हो गए. माधुरी बाद में इसे लेकर काफी नाराज हुईं थीं. एक फ़िल्म की शूटिंग में दिलीप ताहिल ने तो हद ही कर दी थी. बाद में जया प्रदा ने उन्हें करारा थप्पड़ भी इस हरकत के लिए जड़ दिया था.

Featured Video Of The Day

Spotlight : रवीना टंडन ने W-20 डेलिगेशन में अपनी भूमिका को लेकर क्या कहा?