ये हैं टीवी पर चलने वाले 5 सबसे लंबे शो, बदलते रहे किरदार लेकिन खत्म नहीं हुई कहानी

आज हम टेलीविजन पर चलने वाले सबसे लंबे पांच टीवी शोज के बारे में बात कर रहे हैं.

ये हैं टीवी पर चलने वाले 5 सबसे लंबे शो, बदलते रहे किरदार लेकिन खत्म नहीं हुई कहानी

टीवी पर सालों तक चले ये शो

नई दिल्ली :

भारतीय टेलीविजन शो के जरिए नई-नई कहानियां लोगों के घरों तक पहुंचती हैं. ऐसी कहानियां जिसकी अगली कड़ी जानने के लिए कई बार लोग रात को सोते तक नहीं और सोचते रहते हैं कि अगले एपिसोड में आखिर क्या होने वाला है. शायद यही वजह है कि बहुत से टीवी शोज सालों साल चलते रहते हैं और लगता है कि शायद इनका कोई अंत नहीं है. इन शोज की पॉपुलैरिटी ही कुछ ऐसी होती है कि मेकर्स इनका अंत नहीं लिखना चाहते. कई जंप्स और नए पात्रों को जोड़ते हुए कहानी आगे बढ़ती जाती है. आज हम टेलीविजन पर चलने वाले सबसे लंबे पांच टीवी शोज के बारे में बात कर रहे हैं.

 सीआईडी

एसीपी प्रद्युम्न और उनके टीम के खिलाड़ी दया और अभिजीत साल दर साल मर्डर और अपहरण के खतरनाक केसेस सुलझाते रहे. इस शो को भारतीय टेलीविजन इतिहास के सबसे लंबे क्राइम शो का खिताब हासिल है.

तारक मेहता का उल्टा चश्मा

जेठालाल और गोकुलधाम के दूसरे निवासी सालों साल से दर्शकों को गुदगुदाने में कामयाब रहे हैं. यह शो 2008 में शुरू हुआ था और अब 14 साल पूरे कर चुका है.

 'ये रिश्ता क्या कहलाता है'

क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि यह शो पहली बार 2009 में प्रसारित हुआ था. यह 2022 है और कार्तिक और नायरा की कहानी खत्म होने का नाम नहीं ले रही.

 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी'

स्मृति ईरानी यानी तुलसी और उनके ससुराल की ये कहानी साल 2000 से 2008 तक, 8 साल तक प्रसारित हुई थी. जिसमें कई बार मिहिर की मौत हुई. शो में कई जेनरेशन्स की कहानी दिखाई गई.

एफआईआर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सब टीवी पर आने वाला ये कॉमेडी शो भी दर्शकों के बीच काफी पॉपुलर रहा. इंस्पेक्टर चंद्रमुखी चौटाला का स्टाइल लोगों को इतना पसंद आया कि ये शो 2006 से 2015 तक चला.