World Oceans Day 2021: क्यों मनाया जाता है विश्व महासागर दिवस? जानें- थीम और इतिहास

World Oceans Day: आज हम समुद्र का जितना दोहन कर सकते हैं, उससे कहीं अधिक कर रहे हैं. जानिए- क्या है विश्व महासागर दिवस का इतिहास और इस साल की थीम.

World Oceans Day 2021: क्यों मनाया जाता है विश्व महासागर दिवस? जानें- थीम और इतिहास

World Oceans Day 2021: आज है विश्व महासागर दिवस, जानें- क्या है इस दिन का इतिहास

नई दिल्ली:

World Oceans Day 2021: महासागर पृथ्वी की सतह का लगभग 71 प्रतिशत भाग कवर करता है. समुद्र के इस खारे पानी में पौधों, जानवरों और अन्य जीवों सहित विशाल जीवन है. महासागरीय क्षेत्र पृथ्वी की सतह पर कई घाटियों को भरते हैं. साइंटिस्ट और ज्योग्राफर इसे विभिन्न वर्गों में विभाजित करते हैं.

यह पूरे ग्रह को गर्मी ले जाने वाली महासागरीय धाराओं के साथ ग्रह की 50 प्रतिशत ऑक्सीजन प्रदान करके ग्रह को गर्म रखता है, इसलिए महासागरों की भूमिका का जश्न मनाने के लिए, संयुक्त राष्ट्र और अंतर्राष्ट्रीय कानून 8 जून को विश्व महासागर दिवस के रूप में मनाते हैं.

विश्व महासागर दिवस (World Oceans Day 2021) का उद्देश्य मानव जीवन में समुद्र से होने वाले लाभों के बारे में जागरूकता पैदा करना है. चूंकि समुद्र विभिन्न प्रकार के जीवन रक्षक और कैंसर-रोधी दवाएं प्रदान करता है, तो, अब हमारी बारी है सतत विकास के लिए समुद्र और समुद्री संसाधनों के संरक्षण की. यह दिन मानवता के लिए महासागर का जश्न मनाने का दिन है.

क्या है इस साल की थीम

इस साल का मुख्य फोकस समुद्र के जीवन और आजीविका पर होगा, विश्व महासागर दिवस 2021 की थीम "द ओशन: लाइफ एंड लाइवलीहुड" है.

चूंकि महासागर पृथ्वी की अधिकांश जैव विविधता का घर है, यह दुनिया भर के अरबों से अधिक लोगों के लिए प्रोटीन का मुख्य स्रोत प्रदान करता है. महासागर हमारी अर्थव्यवस्था की कुंजी है, 2030 तक समुद्र आधारित उद्योगों द्वारा अनुमानित 40 मिलियन लोगों को रोजगार दिया जा रहा है.

आपको बता दें, 90% बड़ी मछलियों की आबादी के विलुप्त होने और 50%  Coral reef (प्रवाल शैल-श्रेणी)के नष्ट होने के साथ, हम समुद्र का जितना दोहन कर सकते हैं, उससे कहीं अधिक कर रहे हैं.

ऐसे में महासागर की रक्षा और संरक्षण के लिए और जो कुछ भी वह बनाए रखता है, हमें एक नया संतुलन बनाना चाहिए. आज हम सभी देश के सरकारों को समुद्र के साथ एक ऐसा संबंध बनाना जरूरी है जो महासागर और उसके अंदर के जीवन के लिए उपयोगी हो.

इतिहास

विश्व महासागर दिवस की अवधारणा पहली बार 1992 में रियो डी जनेरियो में पृथ्वी शिखर सम्मेलन में प्रस्तावित की गई थी. यह विचार दुनिया के साझा महासागर और मनुष्यों के समुद्र से व्यक्तिगत संबंध का जश्न मनाने के लिए उभरा.

हमारे जीवन में समुद्र द्वारा निभाई जाने वाली महत्वपूर्ण भूमिका और लोगों द्वारा इसे बचाने में मदद करने के महत्वपूर्ण तरीकों के बारे में जागरूकता बढ़ाई.

वर्तमान में, महासागर मामलों के लिए संयुक्त राष्ट्र प्रभाग और समुद्र का कानून विश्व महासागर दिवस के लिए विभिन्न गतिविधियों का सक्रिय रूप से समन्वय कर रहा है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com