Guru Nanak Jayanti 2021: गुरु नानक देव के ये विचार, बदल देंगे आपके जीने का नजरिया

Guru Nanak Jayanti 2021: इस साल गुरु नानक जयंती 19 नवंबर को देशभर में मनाई जाएगी. कार्तिक मास की पूर्णिमा तिथि पर हर साल पूरी दुनिया में गुरु पर्व धूमधाम से मनाया जाता है. गुरु नानक देव ने एकता, भाईचारा और जातिवाद को मिटाने के कई उपदेश दिये हैं, जो आपका नज़रिया बदल देगा.

Guru Nanak Jayanti 2021: गुरु नानक देव के ये विचार, बदल देंगे आपके जीने का नजरिया

Guru Nanak Jayanti 2021: क्या है गुरुनानक देव की सीख जो बदल देगी संसार को देखने का नजरिया

नई दिल्ली:

गुरु नानक जयंती सिखों का सबसे बड़ा पर्व है. सिखों में इसे दीपावली की तरह बहुत ही ही धूमधाम से मनाया जाता है.  गुरु नानक जी के जन्मदिन पर विश्वभर में गुरु पर्व (Guru Parv) मनाया जाता है. गुरु पर्व को प्रकाश पर्व (Prakash Parv) भी कहा जाता है. इस साल गुरु नानक जयंती 19 नवंबर को देशभर में मनाई जाएगी. इस दिन वाहे-वाहे गुरु जपते हुए प्रभात फेरी निकाली जाती है. शाम के समय लंगर किया जाता है. गुरुद्वारों में शबद-कीर्तन बजते हैं और गुणवाणी का पाठ किया जाता है. कार्तिक मास की पूर्णिमा तिथि पर हर साल पूरी दुनिया में गुरु पर्व धूमधाम से मनाया जाता है. गुरु नानक देव ने एकता, भाईचारा और जातिवाद को मिटाने के कई उपदेश दिये हैं, जो आपके जिंदगी जीने का नज़रिया बदल देगा. आइए जानते हैं क्या हैं गुरु नानक देव की सीख.

lajr5uqo

Guru Nanak Jayanti 2021: गुरु नानक देव के विचार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गुरु नानक देव की सीख

  • ईश्वर एक है, वो हर जगह विद्यमान हैं. गुरु नानक देव कहते हैं कि सबके साथ प्रेम और सम्मान की भावना के साथ रहना चाहिए.
  • किसी भी तरह के लालच को त्याग कर पूरी मेहनत और ईमानदारी से धन कमाना चाहिए.
  • हर किसी को उसका अधिकार सम्मानपूर्वक देना चाहिए. किसी का अधिकार छीनना गलत बात है, इसलिए हर किसी को उसका बराबर का अधिकार देना चाहिए. अपनी ईमानदारी की कमाई से गरीब और जरूरतमंदों की हर संभव मदद करनी चाहिए.
  • स्त्री का सम्मान करना चाहिए. गुरु नानक देव महिलाओं और पुरुषों को बराबर का दर्जा देते थे. 
  • तनाव रहित रहकर अपना काम करते रहना चाहिए और हमेशा खुश रहने की कोशिश करना चाहिए.
  • अपने विचारों को शुद्ध रखना चाहिए. कुछ भी हासिल करने से पहले अपने विचारों पर जीत पाना चाहिए.
  • अहंकार इंसान को खराब कर देता है और इंसानियत कम होने लगती है, इसलिए अहंकार कभी भी नहीं करना चाहिए. विनम्रता और सेवा भाव से जीवन व्यतीत करना चाहिए.
  • गुरु नानक देव विश्व को अपने घर की तरह मानते थे और संसार में रहने वाले लोगों को अपने परिवार का सदस्य मानते थे, इसलिए गुरुनानक देव भाईचारा का संदेश देते हैं.
  • गुरु नानक देव लोगों को प्रेम, एकता, समानता का संदेश देते हैं.