सर्दी में अब भी पी रहे हैं ठंडा पानी, तो आपको हो सकती हैं ये 5 परेशानियां, तुरंत बदल दें अपनी आदत

Drink Cold Water : कई लोगों को सर्दी में भी ठंडा पानी (cold water) पीना ही सुहाता है. वह उसे गर्म करने की जेहमत बिल्कुल भी नहीं उठाते हैं. लेकिन आपको पता है कि ठंडा पानी आपकी प्यास तो बुझा सकता है. लेकिन उससे आपकी सेहत को कई नुकसान भी पहुंच सकते हैं. चलिए आपको बताते हैं इस मौसम में ठंडा यानी टंकी का पानी पीने के क्या नुकसान हैं.

सर्दी में अब भी पी रहे हैं ठंडा पानी, तो आपको हो सकती हैं ये 5 परेशानियां, तुरंत बदल दें अपनी आदत

यहां जानें चिल्ड वॉटर किस तरह से आपकी सेहत को खराब कर रहा है. 

Disadvantages Of Cold Water : सर्दी शुरू हो चुकी हैं और लोगों ने फ्रीज का पानी पीना (cold water) तो बंद कर दिया है. पर अब भी वह टंकी यानी आरओ का पानी पी रहे हैं. भले ही आपको पानी को गर्म करने की टेंशन होती हो. लेकिन आपको बता दें कि सर्दी हो या गर्मी, पर ठंडा पानी सेहत के लिए बहुत ही नुकसानदायक है. जी हां, ठंडा पानी आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक है. यहां जानें चिल्ड वॉटर किस तरह से आपकी सेहत को खराब कर रहा है. 

ठंडा पानी पीने के नुकसान | Disadvantages Of Drinking Cold Water

1.  पेट खराब


ठंडा पानी (cold water) आपके पेट को नुकसान पहुंचाता है. इसे पीने से खाना पचाने में दिक्कत, पेट में दर्द, जी मचलना और पेट से अजीब आवाज़े आने की समस्या हो सकती है. इसकी वजह है ठंडे पानी का बाहर के टेम्परेचर के अलग होना, जिससे यह शरीर में पहुंच कर पेट में मौजूद खाने को पचाने में दिक्कत देता है. इसी कारण पेट में दर्द की शिकायत हो सकती है. 

2. सिर दर्द


आपने 'ब्रेन फ्रीज़' के बारे में सुना होगा. यह बर्फ वाले पानी या फिर आइस क्रीम के ज्यादा सेवन से होता है. इसमें ठंडा पानी (cold water) स्पाइन की सेंसेटिव नसों को ठंडा कर कर देता है, जिससे यह दिमाग पर असर डालती हैं. इसी वजह से सिर में दर्द होता है.

3. दिल की धड़कनें धीमा पड़ना


हमारे शरीर में वेगस (vagus nerve) नाम की नर्व होती है. इसे बॉडी की सबसे लंबी कार्निवल नर्व भी कहा जाता है, जो कि गर्दन से होते हुए हार्ट, लंग्स और डाइजेस्टिव सिस्टम को कंट्रोल करती है. जब भी आप ज्यादा ठंडा पानी (cold water) पीते हैं तो ये नर्व ठंडी होकर हार्ट रेट को धीमा करती है, जब तक यह पानी आपके शरीर के अनुकूल ना हो जाए. 

4. कब्ज़



रूम टेम्परेचर के हिसाब से पानी पीने पर कब्ज़ की परेशानी बहुत कम होती हैं, वहीं, ज्यादा ठंडा पानी (cold water) खाना पचाने में दिक्कत लाता है. इसी वजह से सॉलिड फूड डाइजेस्ट होने में वक्त लेता है और कब्ज़ की परेशानी होती है. 

5. मोटापा बढ़ाए

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



ठंडा पानी आपके शरीर में जमे फैट को और सख्त बनाता है. इस वजह से फैट बर्न होने में दिक्कत होती है. अगर आप वज़न कम करने की सोच रहे हैं तो ठंडा पानी (cold water) अवॉइड करें. क्योंकि यह वज़न घटाने की प्रक्रिया को आसान बल्कि और मुश्किल बनाएगा.