पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर वर्चुअल विशेष व्याख्यान का हुआ आयोजन

यह कार्यक्रम अजय के मार्गदर्शन में संपन्न हुआ और कार्यक्रम का संचालन डॉ विकास शर्मा की देखरेख में हुआ.  कार्यक्रम में लगभग 250 लोगों  ने हिस्सा लिया.

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर वर्चुअल विशेष व्याख्यान का हुआ आयोजन

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

 25 सितंबर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर आभासी माध्यम के जरिए इंद्रप्रस्थ अध्ययन केंद्र, शिक्षक श्रेणी दिल्ली प्रांत द्वारा एक विशेष व्याख्यान का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम की शुरुआत डॉ गीता रानी (शिक्षक सह श्रेणी प्रमुख )ने सरस्वती वंदना से की. बता दें कि कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. प्रवीण गर्ग ( प्राचार्य, स्वामी श्रद्धानन्द कॉलेज) ने की.विश्व हिन्दू परिषद् के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष मुख्य वक्ता आलोक कुमार ने पं दीन दयाल उपाध्याय : एकात्म दृष्टि  पर अपना उदबोधन दिया.  आलोक ने अपने उदबोधन में जीवन में व्यवहारिक उदाहरणों द्वारा एकात्म दृष्टि और मानव दर्शन की महत्ता को उल्लेखित किया.

PM मोदी ने दीनदयाल उपाध्‍याय की जयंती पर दी श्रद्धांजलि, कहा - संपूर्ण जीवन राष्ट्र निर्माण में समर्पित कर दिया

जीवन यज्ञ और धर्म पालन की 21वीं शाताब्दी में प्रासंगिकता को आलोक ने दीनदयाल जी के दर्शन के द्वारा अभिव्यक्त किया. भारतीय जीवन दर्शन के आधार प्रतिपादित पंडित दीन दयाल जी की एकात्म दृष्टि  ही आज समाज की सारी समस्याओं का समाधान कर पाएगा.


मध्यप्रदेश : MBBS छात्रों को अब‍ पढ़ाए जाएंगे केशवराव बलिराम हेडगेवार और दीनदयाल उपाध्याय के विचार...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, डॉ गीता भट्ट (निदेशक NCWB), डॉ मनोज खन्ना ( प्राचार्य, रामजस कॉलेज ), डॉ राजीव अग्रवाल (प्राचार्य, देशबंधु कॉलेज ), डॉ राकेश पांडे (पूर्व अध्यक्ष NDTF), डॉ नैना हसीजा (प्राचार्य कालिंदी कॉलेज ), डॉ राज कुमार भाटिया (पूर्व अध्यक्ष अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ) व अन्य लोग इस कार्यक्रम में शामिल रहे. मंच का संचालन डॉ रोशन लाल ने किया व कार्यक्रम का परिचय डॉ सुनील कश्यप (शिक्षक श्रेणी प्रमुख ) ने कराया. यह कार्यक्रम अजय के मार्गदर्शन में संपन्न हुआ और कार्यक्रम का संचालन डॉ विकास शर्मा की देखरेख में हुआ.  कार्यक्रम में लगभग 250 लोगों  ने हिस्सा लिया.