फिल्में बेशक चली नहीं, लेकिन रईसी में नहीं कोई तोड़, 800 करोड़ रुपये का घर और लग्जरी में कहलाते हैं नवाब

जब भी आलीशान घरों की बात आती है तो या तो शाहरुख खान और बिग बी के घर के बंगले की बात होती लेकिन क्या आपको इस एक्टर के घर के बारे में कुछ पता है.

फिल्में बेशक चली नहीं, लेकिन रईसी में नहीं कोई तोड़, 800 करोड़ रुपये का घर और लग्जरी में कहलाते हैं नवाब

बेटी इनाया को गोद में लिए सोहा अली खान

नई दिल्ली:

जब हम बॉलीवुड सितारों के ग्रैंड और महंगे घरों के बारे में बात करते हैं तो शाहरुख खान के मन्नत या अमिताभ बच्चन के जलसा का नाम जरूर आता है. कोई यह मान सकता है कि इनमें से किसी का भी घर उस एक एक्टर से बड़ा नहीं है जिसे फिल्मों में भले ही उतनी सक्सेस नहीं मिली लेकिन प्रॉपर्टी के मामले में इनका कोई जवाब नहीं. इनका जो घर है वो असल में एक महल है जो साइज और कीमत दोनों में किसी के भी घर को पीछे छोड़ सकता है.

कौन है यह एक्टर ?

हरियाणा में पटौदी पैलेस...नाम सुनकर आप समझ ही गए होंगे कि हम सैफ अली खान की बात कर रहे हैं. सैफ अली खान के पास उनका खानदानी महल पटौदी पैलेस है. इसके साथ वह ऐसे इकलौते स्टार हैं जिनके पास इतना महंगा और ग्रैंड घर है. पटौदी पैलेस दिल्ली से सटे गुड़गांव से एक घंटे की ड्राइव पर है. कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि इस ग्रैंड प्रॉपर्टी की कीमत 800 करोड़ रुपये है. इसकी तुलना में शाहरुख के मन्नत की कीमत 200 करोड़ रुपये बताई जाती है जबकि जलसा का मार्केट रेट लगभग 120 करोड़ बताया जाता है.

पटौदी पैलेस का इतिहास

ऑफीशियली इब्राहिम कोठी कहा जाने वाला पटौदी पैलेस सैफ के दादा और पूर्व भारतीय क्रिकेटर नवाब इफ्तिकार अली खान पटौदी ने बनाया गया था. नवाब ने दोनों परिवारों को मिलाकर भोपाल की बेगम से शादी की लेकिन उन्हें लगा कि उनका साधारण घर उनकी नई दुल्हन के कद के अनुरूप नहीं है. इसलिए उन्होंने हवेली की तरह का एक नया महल डिजाइन करने के लिए रॉबर्ट टोर रसेल को जिम्मेदारी सौंपी. इस तरह महल ने आकार ले लिया.

क्या आप जानते हैं सैफ को पटौदी पैलेस वापस खरीदना पड़ा था ?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह महल सैफ के पिता पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान मंसूर अली खान पटौदी का था. अपनी मृत्यु से पहले नवाब ने नीमराणा होटल्स नेटवर्क के मालिकों फ्रांसिस वाक्ज़िएर्ग और अमन नाथ के साथ एक समझौता किया. इसके तहत ये महल 17 साल के लिए नीमराणा होटल सीरीज को लीस पर दे दिया गया. 2011 में नवाब की मृत्यु के बाद महल को नीमराना होटल्स को किराए पर दे दिया गया था. सालों बाद इंडिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू में सैफ ने याद किया कि फ्रांसिस ने इस दुनिया से जाने से पहले उन्होंने कहा था कि अगर मैं (महल) वापस चाहता हूं तो मैं उन्हें बता सकता हूं. मैंने कहा कि मुझे यह वापस चाहिए. इसके बाद सैफ ने मोटी कीमत चुका कर अपना पैलेस अपने नाम कर लिया.