जानें क्यों 'Chhorii' फिल्म के लिए नुसरत भरूचा विशाल फुरिया की थीं पहली पसंद

'छोरी' (Chhorii) फिल्म 26 नवंबर को अमेजन प्राइम पर रिलीज हो चुकी है. इस फिल्म ने रिलीज होते ही लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच किया था. इस फिल्म में नुसरत भरूचा प्रेग्नेंट महिला के किरदार में नजर आईं.

जानें क्यों 'Chhorii' फिल्म के लिए नुसरत भरूचा विशाल फुरिया की थीं पहली पसंद

नुसरत भरूचा विशाल फुरिया की थीं पहली पसंद

नई दिल्ली:

'छोरी' (Chhorii) फिल्म 26 नवंबर को अमेजन प्राइम पर रिलीज हो चुकी है. इस फिल्म ने रिलीज होते ही लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच किया था. इस फिल्म में नुसरत भरूचा प्रेग्नेंट महिला के किरदार में नजर आईं. इस फिल्म में उनके एक्सप्रेशन और अंदाज ने फैंस को ही क्या मेकर्स को भी तारीफ करने पर मजबूर कर दिया. सभी का दिल जीतने वाली नुसरत आखिर कैसे बनीं मेकर्स की पहली पसंद चलिए जानते हैं फिल्म के डायरेक्टर विशाल फुरिया (Vishal Furia) से. NDTV इंडिया से बातचीत के  दौरान विशाल फुरिया ने बताईं कुछ खास बातें. 

  • नुसरत ही आपको इस फिल्म के लिए सही किरदार क्यों लगीं ?

यह पहले ही साफ था कि नुसरत इस फिल्म का हिस्सा रहेंगी, नुसरत अपने किरदारों के साथ हमेशा न्याय करती हैं. उनके साथ-साथ मुझे भी साबित करना था. यहां तक की प्रोड्यूसर ने भी नुसरत को अपनी पहली पसंद बताया. एक्ट्रेस से जब पूछा तब उन्होंने भी हां कर दी, और रिजल्ट सभी के सामने है. 

  • कैसा रहा नुसरत के साथ काम करके आपका एक्सपीरियंस ?

मेरे पास शब्द नहीं है जो मैं बता पाऊं कि उनके साथ काम करके कितना अच्छा लगा. उन्होंने फिल्म के लिए बहुत मेहनत की है. खास बात ये है कि उन्होंने फिल्म का सिर्फ पहला पार्ट पढ़ा दूसरा पढ़ा ही नहीं, क्योंकि उन्हें लगता था कि उनके इसे पढ़ने पर नेचुरल फील नहीं आएगा. वे किरदार के वास्तविक्ता में उतरना चाहती थीं. 

  • किस आधार पर बनाईं जाती हैं हॉरर फिल्म ?

विशाल फूरिया इस सवाल का जबाव देते हुए कहते हैं कि हॉरर फिल्में भी बाकी फिल्मों की तरह ही ह्यूमन इमोशन के आधार पर बनाई जाती हैं. हमारे अंदर एक डर लगा रहता है. चाहें वह किसी का भी क्यों ना हो, हम उसी डर को एक कहानी का रूप देते हैं. 

  • सिनेमाघर खुलने के बाद भी ओटीटी पर फिल्म को उतरना क्यों जरूरी समझा ?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


फिल्म की शूटिंग कोविड के दौरान हो रही थी, हमने बॉयो बबल में फिल्म की शूटिंग की उस समय तक यह नहीं सोचा था कि फिल्म कहां रिलीज करेंगे. उस समय यही दिमाग में था कि दर्शकों तक अच्छी स्टोरी पहुंचानी है. जब फिल्म बनकर तैयार हुई तब कोरोना की दूसरी लहर आ गई, उस दौरान हमने सोचा की फिल्म को ओटीटी पर उतारेंगे क्योंकि सिनेमाघर खुल भी जाएंगे तो लोगों के अंदर एक डर बैठा गया था. हम चाहते थे कि लोग इस फिल्म को इंजॉय करें, इसलिए इस फिल्म को ओटीटी पर उतारना सही समझा.