इस एक्टर ने अपनी बुआ को समर्पित की फिल्म Dil Bechara, बताई यह वजह...

"जब मुझे पता चला कि मुकेश चाहते है कि मैं इस फिल्म का हिस्सा बनूं, तो मैंने अपने दिल ही दिल में इस फिल्म को मीना बुआ को समर्पित कर दिया था ", साहिल ने बताया "दिल बेचारा" उनके लिए खास क्यों है.

इस एक्टर ने अपनी बुआ को समर्पित की फिल्म Dil Bechara, बताई यह वजह...

'दिल बेचारा' (Dil Bechara) का कल होगा प्रीमियर

नई दिल्ली:

हर अभिनेता के लिए एक विशेष प्रोजेक्ट में काम करने के अलग-अलग कारण होते हैं जो उसे इसकी ओर आकर्षित करते हैं और समय के साथ-साथ, ऐसे और भी कुछ कारण होते हैं जो कलाकार के लिए इस प्रोजेक्ट को अधिक विशेष बनाते हैं. कुछ कलाकार ये याद करते है कि किसी प्रोजेक्ट में एक भूमिका कैसे हासिल की थी, कुछ अन्य लोग प्रोजेक्ट और उसकी टीम के सदस्यों के साथ बिताये समय के साथ जुड़ीं यादों के बारे में यादें ताजा करते हैं. इसी तरह, प्रतिभाशाली अभिनेता साहिल वैद (Sahil Vaid) के पास कई कारण हैं जिसकी वजह से 'दिल बेचारा' (Dil Bechara) उनके लिए खास हैं. चाहे वो उनके अपने सह-कलाकारों के साथ ऑफ-स्क्रीन केमरेडरी हो जैसे स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) और संजना सांघी (Sanjana Sanghi) या उनके निर्देशक मुकेश छाबड़ा या कॉलेज के सुनहरे दिनों को फिर से एक बार फिर से जीने की अपनी आंतरिक किशोर भावना को फिर से इस फिल्म में निभाने का मौका हो. 

हाल ही में साहिल वैद (Sahil Vaid) ने इस फिल्म के बहुत ख़ास होने के सबसे कारण के बारें में बताया. इसके बारे में बात करते हुए साहिल वैद ने सेना की डाक सेवाओं में जनरल मीना दत्ता के बारे में बताया, "मेरी बुआ जो को मैंने अपने जीवन के हर पहलू में देखा, कैसे उन्होंने मेरे इस फिल्म को करने से केवल कुछ महीनों पहले अपनी जान गंवा दी. मैंने जीवन में महिलाओं के लिए सम्मान, सेना और शिक्षा के मूल्य को जाना वह एक बड़ी वजह थी. उन्हें मुझ पर गर्व था, जब मैंने इस उद्योग में अपनी किस्मत चमकाने के लिए मुंबई जाने का फैसला किया, उन्होंने कहा था,"आप एक सैनिक की तुलना में अधिक साहसी हो, अपने सपनों को पूरा करने के लिए घर छोड़ना सहास की बात हैं ,तुम सफल होंगे, तुम हमें गर्व महसूस करवाओगे".

उन्होंने आगे कहा, "जब मुझे पता चला कि मुकेश चाहते हैं कि 'द फाल्ट इन आवर स्टार्स' की रीमेक का हिस्सा बनूं, तो मैंने तुरंत अपने दिल में इस फिल्म में भाग लेने को मीना बुआ को समर्पित कर दिया. मेरा एक दोस्त है जो कैंसर से पीड़ित है. आज, मैं उससे लगभग हर रोज बात करता हूं. इस फिल्म के पात्रों की तरह, मेरी बुआ एक महत्वाकांक्षी अभिनेत्री थी. मैं इस फिल्म को उन्हें समर्पित करता हूं, उनका नाम आकांक्षा शिवहरे था. "

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


फिल्म 'दिल बेचारा' (Dil Bechara) की बेसब्री से प्रतीक्षा हो रही है जो जॉन ग्रीन पुस्तक "द फाल्ट इन आवर स्टार्स" का बॉलीवुड रीमेक है. मुकेश छाबड़ा द्वारा निर्देशित, दिल बेचारा इस साल की सबसे ज्यादा बेसब्री से इंतजार की जाने और रिलीज़ होने वाली फिल्मों में से एक है. साहिल वैद जो पहले ही हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया और बद्रीनाथ की दुल्हनिया में एक निष्ठावान दोस्त की अपनी प्यारी भूमिकाओं के साथ दर्शकों के दिलों को लुभा चुके है और बैंकचोर में एक फैजाबादी आम नागरिक की भूमिका में भी. यह अभिनेता अब  'दिल बेचारा' (Dil Bechara), कुली नं 01, शेरशाह जैसी कुछ फिल्मों के साथ फिर से वापस आ रहे हैं.