टीवी सितारे कोरोना काल में कुछ इस तरह सेलिब्रेट करेंगे 'रक्षाबंधन', सेलेब्स ने की पुराने दिनों की यादें ताजा

रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) के मौके पर टीवी के सितारों ने किया खुलासा, बताया इस तरह करेंगे सेलिब्रेट.

टीवी सितारे कोरोना काल में कुछ इस तरह सेलिब्रेट करेंगे 'रक्षाबंधन', सेलेब्स ने की पुराने दिनों की यादें ताजा

टेलीविजन सेलेब्स कुछ यूं करेंगे रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) सेलिब्रेट

खास बातें

  • टीवी सितारों ने बताया इस तरह रक्षाबंधन करेंगे सेलिब्रेट
  • कोरोना काल में यूं होगा सेलिब्रेशन
  • इंटरव्यू में कही ये बात
नई दिल्ली:

रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) का त्योहार 3 अगस्त को सेलिब्रेट किया जाएगा. हालांकि, कोरोनावायरस और लॉकडाउन के कारण भाई-बहन का यह त्योहार उतनी धूमधाम से सेलिब्रेट नहीं हो पा रहा है. वहीं, टेलीविजन के सितारों ने रक्षाबंधन और कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर खुलकर अपनी बात कही. जी टीवी के कुमकुम भाग्य (Kumkum Bhagya) में प्राची का रोल निभा रहीं मुग्धा चापेकर (Mugdha Chapekar) ने कहा, "इस साल हमारे आसपास की स्थिति को देखते हुए मैंने रक्षाबंधन के लिए कोई खास प्लान नहीं बनाया है. लेकिन यदि मुझे शूटिंग से छुट्टी मिली, तो मैं राखी के लिए घर जा सकती हूं, नहीं तो मैं वर्चुअल रूप से ही राखी मनाऊंगी.  मैंने कभी भी रक्षाबंधन का सेलिब्रेशन मिस नहीं किया है, क्योंकि यह मेरे लिए बहुत खास है. बहुत कम लोग जानते हैं कि मेरा भाई आदित्य मुझसे छोटा है और जब हम बच्चे थे, तो वो मुझे गिफ्ट देता था, जो मेरे पेरेंट्स मेरे लिए लाते थे. लेकिन जब उसे उसकी पहली सैलरी मिली, तो उसने मुझे अपने पूरे पैसे देते हुए कहा कि यह मेरा गिफ्ट है. मैं उस पर समय अवाक रह गई थी. मेरी ओर से सभी भाई-बहनों को हैप्पी रक्षाबंधन!"

ज़ी टीवी के 'कुर्बान हुआ (Qurbaan Hua)' में नील की भूमिका निभा रहे करण जोतवानी (Karan Jotwani) ने कहा, "हालांकि मेरी कोई सगी बहन नहीं है, लेकिन अपनी कजिन सिस्टर के साथ मेरा बहुत करीबी नाता है और इसी रिश्ते के चलते मेरे लिए रक्षाबंधन का बड़ा खास महत्व है. हालांकि हम बचपन में जिस तरह से यह त्यौहार मनाते थे, उसकी तुलना में इस साल हमारे लिए यह एक इमोशनल सेलिब्रेशन होगा. हमने रक्षाबंधन से 4 दिन पहले ही यह त्यौहार मनाने का फैसला किया क्योंकि वो अपने करियर के लिए 3 साल के लिए चेन्नई जा रही है. हालांकि उसे बाहर भेजना बड़ा मुश्किल फैसला है लेकिन हमने महसूस किया कि यह फैसला उसकी भलाई के लिए है. वैसे, कोई भी दूरी हमें एक दूसरे से अलग नहीं रख सकती"


ज़ी टीवी के कुंडली भाग्य (Kundali Bhagya) में शर्लिन का रोल निभा रहीं रूही चतुर्वेदी (Ruhi Chaturvedi) ने कहा, "यह साल बाकी सभी सालों से अलग होगा, क्योंकि इस बार मैं बाहर शूटिंग कर रही हूं और इसलिए अपने घर नहीं जा पाऊंगी. मैं अपने पिता को जोखिम में भी नहीं डालना चाहती. इस बार मैं अपने भाई से अपनी सोसाइटी की बिल्डिंग के नीचे ही मिलूंगी क्योंकि हमारी सोसाइटी में बाहर के लोगों को भी प्रवेश की अनुमति नहीं दी जा रही है. इसलिए हम मेरी सोसाइटी के बाहर रक्षाबंधन मनाएंगे. हालांकि यह त्यौहार थोड़ा अलग होगा, लेकिन यह हमेशा मेरे लिए खास रहा है. वैसे भी, राखी हमेशा मेरे लिए खास रही है. मुझे याद है एक बार जब मैं उदयपुर में शूटिंग कर रही थी, तब मेरा भाई बिना बताए मुझे सरप्राइज़ देने पहुंच गया था ताकि हम लोग साथ मिलकर रक्षाबंधन मना सकें. मैं उससे सिर्फ यही कहना चाहती हूं कि भले ही मैं तुमसे कितना भी लड़ूं, सारी दुनिया में तुम ही हमेशा मेरे फेवरेट पर्सन रहोगे. हैप्पी रक्षाबंधन."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ज़ी टीवी के कुंडली भाग्य में ऋषभ का रोल निभा रहे मनित जौरा (Manit Joura) कहते हैं, "इस साल रक्षाबंधन पर मेरे लिए अपनी बहन के पास दिल्ली जाना संभव नहीं होगा क्योंकि मैं घर से बाहर शूटिंग कर रहा हूं और मैं किसी को भी जोखिम में नहीं डालना चाहता. इसके अलावा मेरे पास इतना समय भी नहीं है कि मैं दिल्ली में और फिर वहां से वापस आकर मुंबई में क्वारंटाइन रहूं. तो इस साल परिस्थितियों के चलते मेरा और मेरी बहन का यह वर्चुअल सेलिब्रेशन होगा. लेकिन मैं जानता हूं कि मेरी बहन कुछ ना कुछ योजना जरूर बना रही होगी. वो अच्छी तरह जानती है कि मुझे कैसे सरप्राइज़ किया जाए, इसलिए मुझे भी इस सरप्राइज़ का इंतजार रहेगा. मैं भी उसे एक स्पेशल गिफ्ट देकर सरप्राइज़ देने का प्लान बना रहा हूं. मुझे याद है साल 2007 में उसकी शादी के बाद हमारी पहली राखी थी. उस समय वो दिल्ली में थी और मैंने उसी दौरान मुंबई में शिफ्ट किया था. उसे लगा कि मैं शायद राखी पर ना आ पाऊं क्योंकि मैं वास्तव में काम में फंसा हुआ था. लेकिन जब रक्षाबंधन से 2 दिन पहले मुझे उसकी राखी मिली, तो मैंने तुरंत अपना बैग पैक किया, टिकट बुक की और उसे सरप्राइज़ देने उड़कर उसके पास पहुंच गया. वो मुझे देखकर रो पड़ी. हालांकि इस साल मैं दिल्ली नहीं जा पाऊंगा, लेकिन मैं यकीनन इस अवसर को उसके लिए खास बना दूंगा. मैं उससे बस यही कहना चाहता हूं कि चाहे कुछ भी हो जाए, मैं हमेशा उसके लिए मौजूद रहूंगा. हैप्पी रक्षाबंधन!"