बिग बॉस वाले पारस छाबड़ा पर उनकी डिजाइनर ने लगाए आरोप, पैसा देने के लिए कटवा रहे हैं चक्कर

पारस छाबड़ा (Paras Chhabra) की डिजाइनर्स ने उनपर आरोप लगाया कि बिग बॉस कंटेस्टेंट ने अभी तक उनके पैसे नहीं लौटाए हैं.

बिग बॉस वाले पारस छाबड़ा पर उनकी डिजाइनर ने लगाए आरोप, पैसा देने के लिए कटवा रहे हैं चक्कर

पारस छाबड़ा (Paras Chhabra) के डिजाइनर्स ने लगाया उन पर पेमेंट न देने का आरोप

खास बातें

  • पारस छाबड़ा पर उनके डिजाइनर्स ने लगाए आरोप
  • बिग बॉस 13 के कंटेस्टेंट ने नहीं लौटाए डिजाइनर्स के पैसे
  • आकांक्षा पुरी से ब्रेकअप के बाद से ही बाकी है पेमेंट
नई दिल्ली:

'बिग बॉस 13' के कंटेस्टेंट पारस छाबड़ा (Paras Chhabra) इन दिनों 'मुझसे शादी करोगे' में अपनी दुल्हनिया ढूंढ रहे हैं. लेकिन शो से इतर पारस छाबड़ा ब्रेकअप के बाद एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं. दरअसल, 'बिग बॉस 13' में उन्हें कपड़े भिजवाने वाली डिजाइनर्स ने उनपर पेमेंट न करने का आरोप लगाया है. इसके साथ ही यह भी बताया कि पारस छाबड़ा पैसे के लिए उनसे लगातार चक्कर कटवा रहे हैं. स्पॉट बॉय की रिपोर्ट्स के मुताबिक डिजाइनर्स ने बताया कि पारस और आकांक्षा के ब्रेकअप के बाद से ही उन्हें अभी तक कपड़ों का बकाया पैसा नहीं मिल पाया है. 

स्पॉटबॉय को दिये इंटरव्यू में पारस छाबड़ा (Paras Chhabra) की डिजाइनर्स ने उन्हें बताया, "हमारी लाइन में विश्वास से काम चलता है. हमने कभी नहीं सोचा था कि पैसों के लिए वह हमें इस तरह परेशान करेंगे." उनकी एक डिजाइनर ताशी ने आरोप लगाते हुए कहा, "यह बहुत ही अनप्रोफेशनल है. वह हमेशा यही कहते हैं कि मेरे जीएसटी इशू चल रहे हैं, मुझे अभी तक बिग बॉस 13 की प्राइज मनी नहीं मिली है और जब मिल जाएगी, तभी आप लोगों को पैसे दे पाऊंगा." बता दें कि पारस छाबड़ा से ब्रेकअप के बाद आकांक्षा पुरी ने उनके लिए पेमेंट करना और उनके कपड़े भिजवाना बंद कर दिये थे. 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, पारस छाबड़ा (Paras Chhabra) के बारे में आगे बात करते हुए उनकी डिजाइनर ने कहा कि उन्हें जो कपड़े और जूते भेजे गए थे, उनमें से कुछ पारस ने खो दिए हैं. इसके साथ ही पारस ने उनसे कहा कि जो कपड़े उन्हें भेजे गए थे वह अच्छे नहीं थे. डिजाइन ने पारस की बातों पर गुस्सा जताते हुए कहा, "तो वह उन कपड़ों को पहन ही क्यों रहे थे. ऐसा नहीं है कि बिग बॉस में रहने के दौरान हमारा उनसे संपर्क नहीं था. उनकी मैननेजर से हम लगातार जुड़े थे. लेकिन उन्होंने तो हमें कभी भी नहीं बताया कि वह हमारे दिये गए कपड़ों से खुश नहीं हैं."