कौन बनेगा करोड़पति 12 के ग्रैंड फिनाले में कारगिल के योद्धा आए नजर, सुनाई युद्ध की खौफनाक दास्तान

कौन बनेगा करोड़पति 12 (Kaun Banega Crorepati 12) के आखिरी एपिसोड में कारगिल के योद्धा नजर आएंगे, वह युद्ध के दौरान की खौफनाक यादे ताजा करेंगे.

कौन बनेगा करोड़पति 12 के ग्रैंड फिनाले में कारगिल के योद्धा आए नजर, सुनाई युद्ध की खौफनाक दास्तान

कौन बनेगा करोड़पति 12 (Kaun Banega Crorepati) में कारगिल वार हीरोज ने सुनाई दास्तान

खास बातें

  • कौन बनेगा करोड़पति 12 के ग्रैंड फिनाले में किया गया हीरोज को सलाम
  • कारगिल वार योद्धा ने खेला खेल
  • वीडियो में खोले युद्ध से जुड़े राज
नई दिल्ली:

कौन बनेगा करोड़पति 12 (Kaun Banega Crorepati 12) का ग्रैंड फिनाले कारगिल योद्धाओं को समर्पित रहा. शो का आखिरी एपिसोड 26 जनवरी से कुछ दिनों पहले टेलीकास्ट हुआ. इस दौरान होस्ट अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने बहादुर सेनिकों की वीरता और पराक्रम को याद किया. बता दें, शो के आखिरी एपिसोड में कारगिल युद्ध में परमवीर चक्र से सम्मानित योद्धाओं मेजर योगेंद्र सिंह यादव (Major Yogendra Singh Yadav) और सुबेदार संजय कुमार (Subedar Sanjay Kumar) यह खेल खेलते नजर आए. इस एपिसोड में एक्सपर्ट के तौर पर सौर्य चक्र से सम्मानित रिटायर्ड कर्नल वेंबू शंकर नजर आए. 


बता दें, शो में योगेंद्र यादव (Major Yogendra Singh Yadav) और संजय कुमार (Subedar Sanjay Kumar) ने 25 लाख रुपये जीते, जो आर्मी बेटल कैजुअलिटी वेलफेयर में डोनेट किए गए. कौन बनेगा करोड़पति (Kaun Banega Crorepati) के दौरान योगेंद्र यादव ने टाइगर हिल पर युद्ध के दौरान की बाते याद कीं और उन्होंने बताया कि देश के लिए अपने साथी योद्धाओं के जान देते हुए देखने उनके लिए कितना मुश्किल था. उन्होंन बताया कि उन्हें कई बार हाथों और टांगों में गोली मारी गई थी लेकिन उन्हें अपने साथियों की जान बचानी थी इसलिए उन्होंने दुश्मनों पर ग्रेनेड फैंक दिया था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि, उनके साथ जो सैनिक थे, वह देश के लिए शहीद हो गए. योगेंद्र यादव ने बताया कि युद्ध के बाद उन्हें पहले बेस कैंप  फिर श्रीनगर से दिल्ली शिफ्ट कर दिया गया था. जहां उनका 18 महीने इलाज चला था. वहीं, सुबेदार संजय सिंह ने बताया कि वह कारगिल युद्ध के दौरान लद्दाख में मुश्कोह घाटी में एरिया फ़्लैट टॉप पर कब्जा करने के लिए अपनी टीम का नेतृत्व कर रहे थे, वे पाकिस्तानी सैनिकों से घिरे थे. पाकिस्तानी सैनिक लगातार उन पर गोली बरसा रहे थे, लेकिन कई बार घायल होने के बाद भी वह पाकिस्तानी सैनिकों से लड़ाई करते रहे. भारत ने पाकिस्तान को हरा दिया और एरिया फ्लैट टॉप पर कब्जा कर लिया.