Indian Air Force Day 2021 : जानें, हर साल 8 अक्टूबर को क्यों मनाया जाता है भारतीय वायुसेना दिवस

IAF Day : वायुसेना दिवस हर साल गाजियाबाद में हिंडन बेस पर मनाया जाता है. इस मौके पर भारतीय वायुसेना दिवस (Indian Air Force) के प्रमुख और तीनों सशस्त्र बलों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद होते हैं. भारतीय वायुसेना पर हवाई सीमा की सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है.

Indian Air Force Day 2021 : जानें, हर साल 8 अक्टूबर को क्यों मनाया जाता है भारतीय वायुसेना दिवस

Indian Air Force Day 2021 : क्यों मनाया जाता है भारतीय वायुसेना दिवस, जानें इसका इतिहास

खास बातें

  • क्यों मनाया जाता है एयरफोर्स डे, जानें पूरा इतिहास
  • भारतीय वायु सेना के बारे में ये 10 बातें जान आपको होगा गर्व
  • 8 अक्टूबर को हर साल क्यों मनाया जाता है वायुसेना दिवस
नई दिल्ली:

Indian Air Force Day: आज भारतीय वायुसेना की 89वीं की वर्षगांठ ( IAF Day) है. हर साल की तरह इस बार भी गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरबेस पर यह दिवस धूमधाम मनाया जा रहा है. भारत हर साल 8 अक्टूबर को भारतीय वायु सेना दिवस मनाता है. भारतीय वायु सेना (IAF) का गठन 8 अक्टूबर, 1932 को भारतीय वायु सेना अधिनियम के तहत किया गया था. हालांकि, उस वक्त इंडियन एयरफोर्स को यूनाइटेड किंगडम की रॉयल एयर फोर्स के सहायक बल के रूप में खड़ा किया गया है, लेकिन अब भारतीय वायु सेना विश्व की सबसे दुर्जेय वायु सेना में से एक है. देश की सुरक्षा के लिए सेना का अहम योगदान होता है और इसमें वायुसेना भी अहम भूमिका निभाती है. वायुसेना आसमान से दुश्‍मनों पर नजर रखने के साथ ही सटीक हमले करने का सामर्थ रखती है. भारतीय वायु सेना, संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस और चीन के बाद दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायु सेना है. सालों से विभिन्न युद्धकालीन और शांतिकालीन अभियानों में इंडियन एयरफोर्स ने अपनी क्षमता और शक्ति साबित की है.

क्यों मनाया जाता है यह दिवस? (Why Is This Day Celebrated)

भारतीय वायुसेना दिवस (Indian Air Force Day) आयोजित समारोह में सबसे महत्वपूर्ण पुराने विमानों का शानदार प्रदर्शन शामिल होता है. भारतीय वायुसेना दिवस (IAF Day) राष्ट्रीय सुरक्षा के किसी भी संगठन में आधिकारिक रूप से भारतीय वायुसेना के प्रति लोगों को जागरूक करने और हवाई सीमा की रक्षा के प्रति प्रतिबद्धता जाहिर करने के लिए मनाया जाता है.

4d60e46o

Indian Air Force Day: 8 अक्टूबर को हर साल क्यों मनाया जाता है वायुसेना दिवस 

इंडियन एयरफोर्स डे का इतिहास (History Of Indian Air Force Day)

आज यानी 8 अक्‍टूबर को इंडियन एयरफोर्स डे है. आज ही के दिन साल 1932 में वायुसेना की स्थापना की गई थी. वायुसेना इस साल 89वां स्थापना दिवस मना रही है. बहुत से लोगों को यह बात मालूम नहीं होगी कि आजादी से पहले वायुसेना को रॉयल इंडियन एयरफोर्स (Royal Indian Air Force) कहा जाता था. हालांकि, उस वक्त इंडियन एयरफोर्स को यूनाइटेड किंगडम की रॉयल एयर फोर्स के सहायक बल के रूप में खड़ा किया गया, लेकिन अब भारतीय वायु सेना (IAF) विश्व की सबसे दुर्जेय वायु सेना में से एक है.

कब हुआ गठन (When Was It Formed)


1 अप्रैल 1933 को वायुसेना के पहले दस्ते का गठन हुआ. इसमें 6 आरएएफ ट्रेंड ऑफिसर और 19 हवाई सिपाही शामिल थे. इंडियन एयरफोर्स ने सेकंड वर्ल्‍ड वॉर में अहम भूमिका निभाई थी. आजादी के बाद इसमें से 'रॉयल' शब्द हटा लिया गया.

5 युद्ध लड़ चुकी है IAF

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


1947 में देश आजाद होने के बाद से भारतीय वायुसेना 5 युद्ध में शामिल हो चुकी है. इनमें पाकिस्तान के खिलाफ 1948, 1965, 1971 और 1999 शामिल है. 1962 में चीन के खिलाफ भी भारतीय वायुसेना एक युद्ध लड़ चुकी है. भारतीय वायुसेना के अन्य प्रमुख ऑपरेशनों में ऑपरेशन विजय, ऑपरेशन मेघदूत, ऑपरेशन कैक्टस, ऑपरेशन पूमलाई, बालाकोट एयर स्ट्राइक शामिल हैं.