विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 28, 2022

लोकल यूट्यूब क्रिएटर्स सालाना लगभग 7 लाख नौकरियां और GDP में दे रहे 6,800 करोड़ का योगदान

यूट्यूब पर लोकल क्रिएटर्स सालाना अनुमानित रूप से देश के GDP में 6,800 करोड़ रुपये का योगदान दे रहे हैं और इस प्रक्रिया में 7 लाख रोजगार पैदा कर रहे हैं. YouTube और Google के SVP के चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर नील मोहन ने किया है.

Read Time: 3 mins
लोकल यूट्यूब क्रिएटर्स सालाना लगभग 7 लाख नौकरियां और GDP में दे रहे 6,800 करोड़ का योगदान
यूट्यूब और Google के SVP के चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर नील मोहन ने यह खुलासा किया है कि देश के यूट्यूब क्रिएटर्स सिर्फ देश की GDP ही नहीं बल्कि देश में लाखों रोजगार पैदा कर रहे हैं.
नई दिल्ली:

भारत में बेरोजगारी बहुत अधिक है और इस बात में कोई संदेह नहीं है. देश के युवा बेरोजगार हैं और इसका मुख्य कारण यह है कि देश में रोजगार के बहुत अधिक अवसर उपलब्ध नहीं हैं. आज के इस आधुनिक दौर में जहां कुछ लोग नौकरी के लिए सालों से इंतजार कर रहे हैं और अपने भविष्य को दाव पर लगाए बैठे हैं वहीं सोशल मीडिया (YouTube) क्रिएटर्स के कुछ विचलित करने वाले आंकड़े सामने आए हैं, जिन्हे सुनकर आप हैरान हो सकते हैं. यूट्यूब और Google के SVP के चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर नील मोहन ने यह खुलासा किया है कि देश के यूट्यूब क्रिएटर्स सिर्फ देश की GDP ही नहीं बल्कि देश में लाखों रोजगार भी पैदा कर रहे हैं. 

आईटीबीपी में कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल की नई बहाली, 29 अक्टूबर से कर सकेंगे आवेदन

आकंड़ो के अनुसार लोकल यूट्यूब क्रिएटर्स देश के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में 6,800 करोड़ रुपये का योगदान दे रहे हैं, जो कि बहुत बड़ी बात है. साथ ही प्रत्येक वर्ष लगभग 7 लाख रोजगार भी पैदा कर रहे हैं, जिससे देश में बेरोजगारी के आंकड़े को कम करने में इसे महत्वपूर्ण भूमिका मानी जा सकती है. 

नील मोहन ने आगे बताय कि, "यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी सरकार और YouTube पर है कि मंच का उपयोग गलत सूचना फैलाने के लिए न किया जाए. मोहन ने कहा, "यूट्यूब एक ऐसी जगह है जहां लोग नीतिगत परिणामों के संदर्भ में राय और दृष्टिकोण साझा करने के लिए आते हैं, गलत सूचना और हिंसा को रोकने के प्रति हमारा दृष्टिकोण स्पष्ट है."

उन्होंने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि YouTube विविध और उपेक्षित समुदायों को सक्षम बनाता है. "हमारे पास वैश्विक सामुदायिक दिशानिर्देशों का एक सेट है जो यह स्पष्ट करता है कि मंच पर गलत सूचना और नफरत फ़ैलाने की अनुमति नहीं है.

7 लाख नौकरियां, देश की GDP में 6800 करोड़ का सालाना कंट्रीब्यूशन कर रहे YouTube क्रिएटर

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
UPSC ने जारी किया सिविल सर्विसेज प्रीलिम्स एग्जाम 2024 का रिजल्ट, यहां चेक करें डिटेल
लोकल यूट्यूब क्रिएटर्स सालाना लगभग 7 लाख नौकरियां और GDP में दे रहे 6,800 करोड़ का योगदान
कर्नाटक बोर्ड परीक्षा की डेट शीट जारी, 10वीं की परीक्षा अप्रैल से 
Next Article
कर्नाटक बोर्ड परीक्षा की डेट शीट जारी, 10वीं की परीक्षा अप्रैल से 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;