IAS Success Story: यशनी नागराजन ने जॉब में रहते हुए क्रैक की IAS की परीक्षा, कहा टाइम मैनेजमेंट से क्रैक हो सकती है कोई भी परीक्षा

IAS Success Story: IAS बनने का सपना देखते हैं तो आप IAS अधिकारी यशनी नागराजन की सफलता की कहानी को नज़रअंदाज नहीं कर सकते. आपको जानकर हैरानी होगी कि जब यशनी यूपीएससी की तैयारी कर रही थी तो वह एक फुल टाइम जॉब में थीं.

IAS Success Story: यशनी नागराजन ने जॉब में रहते हुए क्रैक की IAS की परीक्षा, कहा टाइम मैनेजमेंट से क्रैक हो सकती है कोई भी परीक्षा

IAS Success Story: यशनी नागराजन ने जॉब में रहते हुए क्रैक की थी IAS की परीक्षा, कहा टाइम मैनेजमेंट से क्रैक हो सकती है कोई भी परीक्षा

नई दिल्ली:

IAS Success Story: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC)  की परीक्षा को देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा माना जाता है. परीक्षा क्रैक करने के हिसाब से यूपीएससी परीक्षा को देश की सबसे कठिन परीक्षा भी माना जाता है. हर साल लाखों उम्मीदवार इस परीक्षा में शामिल होते हैं, लेकिन कुछ ही उम्मीदवारों को सफलता मिलती है. यदि आप भी यूपीएससी की परीक्षा में उत्तीर्ण होना चाहते हैं और IAS बनने का सपना देखते हैं तो आप IAS अधिकारी यशनी नागराजन की सफलता की कहानी को नज़रअंदाज नहीं कर सकते. आपको जानकर हैरानी होगी कि जब यशनी यूपीएससी की तैयारी कर रही थी तो वह फुल टाइम कर्मचारी थी. यशनी नागराजन ने वर्ष 2019 में अखिल भारतीय रैंक 57 हासिल करके आईएएस अधिकारी बनने के अपने सपने को पूरा किया.  उन्होंने अपने चौथे प्रयास में ही यूपीएससी परीक्षा पास की. एक साक्षात्कार में उन्होंने बताया था कि यूपीएससी की तैयारी के लिए नौकरी छोड़ना जरूरी नहीं है. बेहतर टाइम मैनेजमेंट और कड़ी मेहनत के साथ यह परीक्षा पास की जा सकती है.  

BPSC 67th Prelims Date: 67वीं प्रीलिम्स परीक्षा 20 और 22 सितंबर को, परीक्षा केंद्रों पर लगेंगे जैमर

यशनी नागराजन ने अपनी स्कूली शिक्षा केन्द्रीय विद्यालय, नाहरलगुन से की. उन्होंने साल 2014 में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग, युपिया (National Institute of Engineering, Yupia) से इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में बीटेक किया है. उनके पिता, थंगावेल नागराजन एक सेवानिवृत्त राज्य पीडब्ल्यूडी इंजीनियर हैं और उनकी मां गुवाहाटी उच्च न्यायालय रजिस्ट्री में ईटानगर शाखा के अधीक्षक के पद पर कार्य कर चुकी हैं.

MPPEB भर्ती के लिए अब इस तारीख तक कर सकेंगे आवेदन, 2621 पदों पर होगी भर्ती

वीकेंड पर पूरे दिन पढ़ाई

यूपीएससी की तैयारी के दौरान यशनी रोजाना 4 से 5 घंटे पढ़ाई करती थी. इतना ही नहीं वीकेंड पर जब सभी छुट्टी मनाते हैं, वे अपना पूरा समय पढ़ाई करके बिताया करती थी. यूपीएससी की परीक्षा क्रैक करने के सवाल पर उन्होंने कहा था कि जब आप फुल टाइम जॉब कर रहे हैं तो वीकेंड में आपको फुल टाइम पढ़ाई भी करनी होगी. इससे आपकी तैयारी अच्छी होगी, टाइम मैनेजमेंट के साथ आप दिन के चार-पांच घंटे रोजाना पढ़ाई भी कर सकते हैं.  

यूपीएससी उम्मीदवारों को उनकी सलाह

यशनी ने यूपीएससी की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों को कहा कि निबंध और नैतिकता वे पेपर हैं जिनमें आप हाई स्कोर कर सकते हैं. इसलिए इन विषयों को महत्व देना शुरू कर दीजिए और इनकी तैयारी बेहतर ढंग से करें. एक साक्षात्कार के दौरान उन्होंने कहा था कि नौकरी के साथ  यूपीएससी की तैयारी करना मुश्किल है लेकिन इससे आपको फायदा होगा. कारण कि नौकरी में होने पर यूपीएससी में असफल होने पर भी आपको तनाव महसूस नहीं होगा. आपको अपने करियर को लेकर लाइफ में सेट होने को लेकर तनाव नहीं होगा. हालांकि अनुशासन, टाइम मैनेजमेंट और कड़ी मेहनत से आईएएस की ही नहीं देश-दुनिया की कोई भी परीक्षा क्रैक की जा सकती है. 

रवीश कुमार का प्राइम टाइम : 22 में नहीं बना, 47 में बनेगा भारत महान, ट्रिलियन ट्रिलियन की रेवड़ियों से सावधान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com