UP Board Exam 2024: यूपी बोर्ड परीक्षा आज से शुरू, 8265 परीक्षा केंद्र, सभी छात्र CCTV में होंगे कैद, परीक्षा केंद्रों पर एसटीएफ तैनात

UP Board Exam 2024: यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं आज से शुरू हो रही हैं. इस बार बोर्ड परीक्षा में 55 लाख से अधिक छात्र-छात्राएं भाग ले रहे हैं. बोर्ड परीक्षा...

UP Board Exam 2024: यूपी बोर्ड परीक्षा आज से शुरू, 8265 परीक्षा केंद्र, सभी छात्र CCTV में होंगे कैद, परीक्षा केंद्रों पर एसटीएफ तैनात

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं कल से शुरू

नई दिल्ली:

UP Board Class 10th, 12th Exam 2024: यूपी बोर्ड की परीक्षाएं आज यानी 22 फरवरी से शुरू हो रही हैं. माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश (UPMSP) की यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 22 फरवरी से शुरू हो रही हैं. यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं, 12वीं दोनों की कक्षाओं की परीक्षाएं 22 फरवरी से शुरू हो रही है, जो 9 मार्च तक चलेंगी. वर्ष 2017 से पहले इन परीक्षाओं को संपन्न कराने में एक माह से भी अधिक समय लगता था. यूपी बोर्ड की परीक्षा प्रदेश के 8,265 परीक्षा केंद्रों पर एक साथ शुरू होगी. इस साल यूपी बोर्ड परीक्षा 2024 में 55 लाख से अधिक छात्र-छात्राएं भाग ले रहे हैं. यूपीएमएसपी में हाईस्कूल के 1571184 छात्र और 1376127 छात्राएं भाग ले रहे हैं, वहीं इंटरमीडिएट की परीक्षा 1428323 छात्र और 1149676 छात्राएं देंगे. कुल 55,25,308 परीक्षार्थियों में से 5360745 संस्थागत एवं 164563 व्यक्तिगत् परीक्षार्थी हैं. इस बार भी योगी सरकार ने बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए कड़े इंतेजाम किए हैं. 

CBSE Board Exam 2024: सीबीएसई बोर्ड परीक्षा पास होने के लिए इतने अंक जरूरी, 10वीं, 12वीं की मार्किंग स्कीम यहां

बोर्ड परीक्षा की लाइव मॉनिटरिंग

बोर्ड परीक्षा को शुचितापूर्ण एवं नकलविहीन कराने के लिए विगत वर्षो में अपनाई गई प्रक्रिया को और सुदृढ़ किया गया है. राज्य स्तर पर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय लखनऊ के साथ-साथ विद्या समीक्षा केन्द्र लखनऊ और परिषद मुख्यालय, प्रयागराज और 05 क्षेत्रीय कार्यालयों में भी कमांड एवं कंट्रोल सेंटर की स्थापना की गई है. ताकि प्रदेश के समस्त परीक्षा केंद्रों और जनपद स्तरीय कंट्रोल एवं मॉनिटरिंग सेंटर की लाइव मॉनिटरिंग की जाएंगी. इसी प्रकार जनपद स्तर पर भी कमाण्ड एंड कंट्रोल सेंटर, हेल्पलाइन व अन्य व्यवस्थाएं कराई गई हैं. इनके माध्यम से जनपद के समस्त परीक्षा केंद्रों की लाइव मॉनीटरिंग की जाएगी. जनपदीय कंट्रोल सेंटर को संचालित करने के लिए जिलाधिकारी द्वारा नामित प्रशासनिक अधिकारी को तैनात किया गया है. 

CBSE की 10वीं, 12वीं बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ी घोषणाएं, कुछ इस सत्र से तो कुछ अगले शैक्षणिक सत्र से लागू 

छात्र सीसीटीवी कैमरे में  

नकल की सम्भावनाओं पर अंकुश लगाने के लिए प्रश्नपत्रों को खोलने की कार्रवाई सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में की जाएगी. यही नहीं संकलन केन्द्रों एवं स्ट्रांग रूम पर 24 घण्टे निगरानी के लिए सशस्त्र बल एवं लाइव सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की गई है. स्ट्रांग रूम हर रोज सचल दल द्वारा निरीक्षण किया जाएगा. 

परीक्षा केंद्र के आस-पास धारा 144

परीक्षा केंद्रों के आस-पास 100 मीटर की परिधि में और आवश्यकता पड़ने पर उसके बाहर भी समाज विरोधी तत्वों अथवा किसी व्यक्तियों को एकत्र न होने देने हेतु जिला प्रशासन को दण्ड प्रक्रिया संहिता के अन्तर्गत धारा-144 लागू करने सहित अन्य सभी एहतियाती उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही सभी केंद्र व्यवस्थापकों को प्रश्नपत्रों के रख-रखाव तथा परीक्षा सम्पादन के सम्बंध में व्यवस्था के विभिन्न आयामों को और वाह्य केन्द्र-व्यवस्थापकों एवं स्टेटिक मजिस्ट्रेटों को परीक्षा के सही तरीके कराने के लिए प्रशिक्षित किया गया है.  

3.11 लाख कक्ष निरीक्षक 

उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षा में पहली बार परीक्षा कक्षों में लगभग 3.11 लाख कक्ष निरीक्षकों को लगाया गया है और उन्हें सुरक्षित क्यूआर कोड एवं क्रमांकयुक्त कम्प्यूटराइज्ड परिचय पत्र जारी किया गया है. प्रथम बार उत्तर पुस्तिकाओं के कवर पृष्ठ पर क्यूआर कोड, क्रमांक संख्या एवं लोगो के अतिरिक्त उसके आन्तरिक पृष्ठ पर भी परिषद का लोगो और प्रत्येक पृष्ठ पर पृष्ठ संख्या के साथ-साथ चार अलग-अलग रंगों में सिलाईयुक्त उत्तर पुस्तिकाएं मुद्रित कराई गई हैं. 

क्विक रिस्पांस टीम

यूपी बोर्ड परीक्षा में प्रथम बार क्विक रिस्पांस टीम गठित की गई है जो सोशल मीडिया पर भ्रामक खबरे फैलाकर जनसामान्य को गुमराह करने और सरकार की छवि धूमिल करने के प्रयासों की निगरानी करेगी और त्वरित कार्रवाई करायेगी. बोर्ड परीक्षा में कक्ष निरीक्षक एवं अन्य कार्यों के लिए ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले कार्मिकों के विरूद्ध नियमों के तहत कार्रवाई की जाएगी. 

एसटीएफ से निगरानी

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा विगत वर्षो के अनुभवों के आधार पर संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों (466/275)/जनपदों(16) को चिह्नित किया गया है और यहां किसी अप्रिय घटना की रोकथाम हेतु एसटीएफ और स्थानीय अधिसूचना इकाई के माध्यम से विशेष निगरानी की व्यवस्था की गई है. यूपी बोर्ड की परीक्षा में किसी विषय की परीक्षा समाप्त होने से पूर्व यदि उस विषय का कोई प्रश्न-पत्र या उसके किसी भाग को या उसका हल whatsApp/ सोशल मीडिया या अन्य किसी माध्यम से संचारित करने का प्रयास किया जाता है तो उत्तर प्रदेश सार्वजनिक परीक्षा (अनुचित साधनों का निवारण) अधिनियम-1998 की धारा-4/10 के अन्तर्गत ऐसे दण्डनीय संज्ञेय एवं गैर जमानती आपराधिक कृत्य पर कठोरतम कार्रवाई की जाएगी. 

CTET जनवरी 2024 के नतीजे घोषित, जानिए क्या रहा क्वालीफाइंग मार्क्स और कितना गया cutoff

बोर्ड परीक्षा के लिए स्पेशल बसें

विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित कर विद्यार्थियों को परिवहन की सुविधा प्रदान करने के लिए बोर्ड परीक्षा में स्पेशल बसों की व्यवस्था की गई है. यही नहीं सरकार ने परीक्षा अवधि में निर्बाध विद्युत आपूर्ति, परीक्षा केन्द्रों एवं आस-पास की साफ-सफाई एवं सेनेटाइजेशन, परीक्षार्थियों/परीक्षा कार्मिकों को आपातकालीन प्राथमिक चिकित्सा की व्यवस्था भी की है. 

हेल्पलाइन नंबर भी जारी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बोर्ड परीक्षा के लिए परिषद द्वारा दो हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है. एक नंबर छात्रों और लोगों की शिकायतों का त्वरित निदान के लिए है- ये नबंर हैं- 1800 180 6607/8. दूसरा नंबर छात्रों की जिज्ञासाओं के समाधान और मनोवैज्ञानिक परामर्श हेतु 1800 180 5310/12 जारी किए गए हैं.