MP Board Result 2022: एमपी बोर्ड 10वीं, 12वीं का रिजल्ट दो दिन बाद, 29 या 30 को होगा घोषित 

MPBSE 10th, 12th Results 2022: एमपी बोर्ड के अधिकारी ने कहा कि दोनों कक्षाओं यानी 10वीं और 12वीं के परिणाम दो दिन बाद यानी 29 या 30 अप्रैल को घोषित किए जाएंगे. छात्र रिजल्ट चेक करने के लिए एमपी बोर्ड की वेबसाइट देखें.

MP Board Result 2022: एमपी बोर्ड 10वीं, 12वीं का रिजल्ट दो दिन बाद, 29 या 30 को होगा घोषित 

MP Board Result: 10वीं, 12वीं का रिजल्ट दो दिन बाद

नई दिल्ली:

MPBSE 10th, 12th Results 2022: मध्य प्रदेश बोर्ड (Madhya Pradesh Board) कक्षा 10वीं और 12वीं के परिणाम 29 से 30 अप्रैल के बीच घोषित करेगा. एमपी बोर्ड के अधिकारी (MP Board official) ने बताया, "कक्षा 10वीं, 12वीं दोनों के परिणाम 29 या तो 30 अप्रैल को घोषित किए जाएंगे.  परिणाम की घोषणा जल्द ही जारी की जाएगी." रिजल्ट के जारी होने के बाद कक्षा 10वीं, 12वीं के परिणाम आधिकारिक वेबसाइट- mpresults.nic.in, mpbse.nic.in पर उपलब्ध होंगे. अधिकारी के अनुसार, छह पेपरों में त्रुटियों के कारण परिणाम घोषणा प्रक्रिया में देरी हुई. लगभग 1.30 करोड़ कॉपियों का मूल्यांकन किया गया, मूल्यांकन प्रक्रिया मार्च में शुरू हुई थी. 

17 फरवरी से 12 मार्च के बीच हुई 10वीं, 12वीं की परीक्षा में कुल 18 लाख छात्र शामिल हुए थे. पिछले साल 10वीं और 12वीं दोनों परीक्षाओं का पास प्रतिशत 100 प्रतिशत था, जो अब तक का सबसे अच्छा पास प्रतिशत है. छात्रों को बोर्ड परीक्षा पास करने के लिए व्यावहारिक परीक्षा सहित कुल मिलाकर न्यूनतम 30 प्रतिशत अंक प्राप्त करने की आवश्यकता है.

मध्य प्रदेश बोर्ड ने इस साल रीवाइज्ड मार्किंग स्कीम जारी की थी. रीवाइज्ड मार्किंग स्कीम के अनुसार, हाई स्कूल और उच्चतर माध्यमिक परीक्षाओं के लिए, 80 अंक थ्योरी विषयों के लिए और शेष 20 अंक प्रैटिक्ल और प्रोजेक्ट कार्यों के लिए आवंटित किए जाएंगे. प्रैटिक्ल कंपोनेंट वाले विषयों के लिए, एमपी बोर्ड कक्षा 12वीं के थ्योरी घटक 70 अंकों के लिए आयोजित किए जाएंगे और 30 अंक प्रैक्टिकल के लिए आवंटित किए जाएंगे. 

 ये भी पढ़ें ः MP Police Constable PPT Admit Card 2020: एमपी पुलिस कांस्टेबल पीपीटी एडमिट कार्ड जारी, यहां डाउनलोड करें 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


MP Board Result 2022: एमपी बोर्ड रिजल्ट इसी हफ्ते, जानें क्या है पिछले पांच साल का पास प्रतिशत