केंद्रीय विश्वविद्यालयों ने विभिन्न स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिला की प्रक्रिया शुरू की

दिल्ली के प्रमुख केंद्रीय विश्वविद्यालयों (central universities) ने विभिन्न स्नातक पाठ्यक्रमों में छात्रों को दाखिला देने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है. इस साल, विश्वविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया बदल गई है.

केंद्रीय विश्वविद्यालयों ने विभिन्न स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिला की प्रक्रिया शुरू की

केंद्रीय विश्वविद्यालयों ने विभिन्न स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिला की प्रक्रिया शुरू की

नई दिल्ली:

दिल्ली के प्रमुख केंद्रीय विश्वविद्यालयों (central universities) ने विभिन्न स्नातक पाठ्यक्रमों में छात्रों को दाखिला देने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है. इस साल, विश्वविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया बदल गई है क्योंकि उन्होंने स्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) को अपनाया है. दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) पहले 12वीं कक्षा के अंकों के आधार पर छात्रों को दाखिला देता था और जामिया मिलिया इस्लामिया तथा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) में स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए अलग-अलग प्रवेश परीक्षा होती थी. इस साल से देश भर के सेंट्रल यूनिवर्सिटी सहित अन्य विश्वविद्यालय में सीयूईटी यूजी परीक्षा (CUET UG examination) के आधार पर दाखिला हो रहा है.

छात्रों को दाखिला देने की पुरानी प्रथाओं को छोड़ते हुए विश्वविद्यालयों ने शैक्षणिक सत्र 2022-23 से आंशिक या पूर्ण रूप से सीयूईटी को अपनाया है. इस साल 67 कॉलेजों, विभागों और केंद्रों में 79 स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिला दिया जा रहा है. डीयू ने 12 सितंबर को शैक्षणिक वर्ष 2022-23 के लिए अपने स्नातक पाठ्यक्रमों में सीयूईटी के माध्यम से दाखिले के लिए पोर्टल की शुरुआत की थी.

डीयू में दाखिला

बारह सितंबर से शुरू हुई दाखिला प्रक्रिया तीन चरणों में आयोजित की जा रही है. पहला चरण में छात्रों को विश्वविद्यालय में आवेदन करना है, दूसरे चरण में छात्रों को वरीयता भरनी होगी और तीसरा चरण सीट आवंटन-सह-दाखिला की प्रक्रिया है. फिलहाल दूसरे और तीसरे चरण के तहत प्रक्रिया चल रही है. पहला चरण 12 सितंबर को और दूसरा चरण 26 सितंबर को शुरू हुआ था. हालांकि, दोनों चरण 10 अक्टूबर तक चलेंगे. दूसरे चरण में सीयूईटी स्कोर आवश्यक है. वरीयता भरने के चरण (द्वितीय चरण) के समाप्त होने के बाद, विश्वविद्यालय सीएसएएस-2022 आवंटन नीति के आधार पर संभावित आवंटन की एक अस्थायी सूची जारी करेगा. दिल्ली सरकार का बी. आर. आंबेडकर विश्वविद्यालय भी 18 यूजी पाठ्यक्रमों में छात्रों को प्रवेश देगा.

जेएनू में दाखिला

जेएनयू ने सीयूईटी के माध्यम से अपने स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए 28 सितंबर को पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की थी. पंजीकरण प्रक्रिया का समापन 12 अक्टूबर को होगा. विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने कहा था कि दाखिले के लिए पहली मेरिट सूची 17 अक्टूबर को प्रकाशित की जाएगी जबकि दूसरी सूची 22 अक्टूबर को जारी की जाएगी. तीसरी सूची की घोषणा 27 अक्टूबर को की जाएगी. वहीं जेएनयू में स्नातक छात्रों का पहला सेमेस्टर सात नवंबर से शुरू होगा.

जामिया में दाखिला 

जामिया मिलिया इस्लामिया (जेएमआई) दिल्ली विश्वविद्यालय के विपरीत, सीयूईटी के माध्यम से सिर्फ 10 स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिला दे रहा है. जामिया ने अगस्त में इन पाठ्यक्रमों में दाखिला पाने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए एक पंजीकरण पोर्टल शुरू किया था. पंजीकरण प्रक्रिया पिछले सप्ताह समाप्त हुई थी. विश्वविद्यालय के एक अधिकारी ने कहा कि विश्वविद्यालय अगले सप्ताह मेरिट सूची की घोषणा करने की योजना बना रहा है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)