CBSE Board 2021: प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए सेंटर बदल सकते हैं 10वीं-12वीं के छात्र

बोर्ड ने कहा कि उसे कुछ स्कूलों से अनुरोध मिला है कि वे दो के बजाय तीन शिफ्ट में प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित कर सकते हैं, जिससे छात्रों को थ्योरी परीक्षा की तैयारी के लिए प्रैक्टिकल परीक्षा जल्दी मिल सकेगी और अधिक समय की उपलब्धता सुनिश्चित होगी.

CBSE Board 2021: प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए सेंटर बदल सकते हैं 10वीं-12वीं के छात्र

नई दिल्ली:

CBSE 2021: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के छात्रों को आने वाली बोर्ड परीक्षाओं के लिए केंद्र बदलने की अनुमति दी है. आधिकारिक बयान के अनुसार, छात्र एक अलग केंद्र से प्रैक्टिकल और थ्योरी परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं. जो छात्र अपने परीक्षा केंद्रों को बदलना चाहते हैं उन्हें 25 मार्च तक स्कूलों  में आवेदन करना होगा. 31 मार्च तक स्कूल छात्रों द्वारा किए गए अनुरोधों को CBSE की वेबसाइट पर अपलोड करेंगे.

बता दें, ऐसा COVID-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए किया गया है. COVID महामारी के कारण, कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के कुछ छात्र अपने परिवार के साथ किसी अन्य शहर या देश में स्थानांतरित हो गए हैं ऐसे में जिन छात्रों को सीबीएसई की ओर से सेंटर मिले हैं वह प्रैक्टिकल परीक्षा या थ्योरी परीक्षा के लिए उपस्थित होने में असमर्थ हैं. ऐसे में वह छात्र अपना परीक्षा केंद्र बदल सकते हैं.

जो छात्र बोर्ड परीक्षा केंद्रों को बदलना चाहते हैं, उन्हें सीबीएसई द्वारा रोल नंबर जारी किए जाने चाहिए. छात्रों को उस स्कूल से अनुरोध करना होगा जो वे वर्तमान में प्रैक्टिकल या थ्योरी परीक्षा केंद्र, या दोनों को बदलने के लिए रजिस्टर हैं.

छात्रों को उस स्कूल को भी सूचित करना होगा जहां से वे परीक्षा में उपस्थित होना चाहते हैं. छात्रों से अनुरोध प्राप्त करने के बाद, स्कूल सीबीएसई की वेबसाइट पर परिवर्तनों को अपडेट करेंगे. एक बार जब स्कूल छात्रों द्वारा किए गए अनुरोधों को प्रस्तुत करते हैं, तो परीक्षा केंद्र, शहर या देश में कोई बदलाव नहीं होने दिया जाएगा.

जो लोग प्रैक्टिकल और थ्योरी परीक्षा के लिए केंद्र बदलना चाहते हैं, दोनों को केवल एक अंक में बदल दिया जाएगा. सीबीएसई विभिन्न शहरों से छात्रों को प्रैक्टिकल और थ्योरी परीक्षा के लिए उपस्थित नहीं होने देगा.

3 शिफ्ट में होंगी परीक्षाएं

सीबीएसई ने स्कूलों को एक दिन में तीन शिफ्ट तक की अनुमति देने के लिए, शिफ्ट में प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित करने की अनुमति दी है.

बोर्ड ने कहा कि उसे कुछ स्कूलों से अनुरोध मिला है कि वे दो के बजाय तीन शिफ्ट में प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित कर सकते हैं, जिससे छात्रों को थ्योरी परीक्षा की तैयारी के लिए प्रैक्टिकल परीक्षा जल्दी मिल सकेगी और अधिक समय की उपलब्धता सुनिश्चित होगी.

बोर्ड ने कहा कि उसे कुछ स्कूलों से अनुरोध मिला है कि वे दो के बजाय तीन शिफ्ट में प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित कर सकते हैं, जिससे छात्रों को थ्योरी परीक्षा की तैयारी के लिए  प्रैक्टिकल परीक्षा जल्दी मिल सकेगी और अधिक समय की उपलब्धता सुनिश्चित होगी.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com