फोनपे को मिला वॉलमार्ट का साथ, 20 करोड़ डॉलर की सहायता

पिछले वर्ष अपना मुख्यालय भारत स्थानांतरित करने के बाद से फोनपे एक अरब डॉलर तक की पूंजी जुटाने की कवायद कर रही है. यह नया वित्तपोषण भी उसी का हिस्सा है. फोनपे ने एक बयान में कहा कि इस वित्तपोषण के साथ कंपनी विभिन्न वैश्विक निवेशकों से 65 करोड़ डॉलर (लगभग 5,360 करोड़ रुपये) जुटा चुकी है.

फोनपे को मिला वॉलमार्ट का साथ, 20 करोड़ डॉलर की सहायता

फोनपे को वॉलमार्ट की सहायता.

नई दिल्ली:

वित्तीय प्रौद्योगिकी मंच फोनपे ने कहा कि उसने 12 अरब डॉलर के निवेश या वित्तपोषण से पहले के मूल्यांकन (प्री-मनी वैल्यूएशन) पर वॉलमार्ट से अतिरिक्त 20 करोड़ डॉलर (करीब 1,649 करोड़ रुपये) की प्राथमिक पूंजी जुटाई है. पिछले वर्ष अपना मुख्यालय भारत स्थानांतरित करने के बाद से फोनपे एक अरब डॉलर तक की पूंजी जुटाने की कवायद कर रही है. यह नया वित्तपोषण भी उसी का हिस्सा है. फोनपे ने एक बयान में कहा कि इस वित्तपोषण के साथ कंपनी विभिन्न वैश्विक निवेशकों से 65 करोड़ डॉलर (लगभग 5,360 करोड़ रुपये) जुटा चुकी है.

निवेश या वित्तपोषण से पहले का 12 अरब डॉलर का मूल्यांकन वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली फोनपे को देश की सबसे मूल्यवान वित्तीय प्रौद्योगिकी (फिनटेक) कंपनी बनाता है.

बयान में कहा गया, ‘‘कंपनी को और निवेश मिलने की उम्मीद है जिनके बारे में घोषणा आने वाले समय में की जाएगी.'' कंपनी के संस्थापक और सीईओ समीर निगम ने कहा कि हमारे बहुलांश निवेशक वॉलमार्ट का हम आभार जताते हैं जिसने हमारी दीर्घकालिक आकांक्षाओं का लगातार समर्थन किया है. हम वृद्धि के अगले चरण को लेकर उत्साहित हैं और भारतीय उपभोक्ताओं को नई पेशकश कर रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वॉलमार्ट इंटरनेशनल के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी जुडिथ मैकेन्ना ने कहा, ‘‘हम फोनपे के भविष्य को लेकर उत्साहित हैं. जिस तरह यह अपनी पेशकश का विस्तार कर रही है और बड़े पैमाने पर भारतीयों को वित्तीय सेवाओं की पहुंच दे रही है उस पर हमें भरोसा है.''