नवंबर में ग्रामीण श्रमिकों की खुदरा मुद्रास्फीति 6.99 प्रतिशत रही

श्रम मंत्रालय के तहत श्रम ब्यूरो ने एक बयान में यह जानकारी दी.

नवंबर में ग्रामीण श्रमिकों की खुदरा मुद्रास्फीति 6.99 प्रतिशत रही

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

कृषि एवं ग्रामीण श्रमिकों के लिए खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर में सालाना आधार पर बढ़कर क्रमशः 6.87 प्रतिशत और 6.99 प्रतिशत हो गई. श्रम मंत्रालय के तहत श्रम ब्यूरो ने एक बयान में यह जानकारी दी. इसके मुताबिक, उपभोक्ता मूल्य सूचकांक- कृषि श्रमिक (सीपीआई-एएल) नवंबर, 2021 में 3.02 प्रतिशत रहा था जबकि उपभोक्ता मूल्य सूचकांक- ग्रामीण श्रमिक (सीपीआई-आरएल) 3.38 प्रतिशत पर था.

वहीं अक्टूबर, 2022 में सीपीआई-एएल 7.22 प्रतिशत और सीपीआई-आरएल 7.34 प्रतिशत पर रहा था.

श्रम ब्यूरो के मुताबिक, नवंबर, 2022 में खाद्य मुद्रास्फीति कृषि श्रमिकों के लिए 6.19 प्रतिशत जबकि ग्रामीण कामगारों के लिए 6.05 प्रतिशत पर रही.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक नवंबर में कृषि श्रमिकों के लिए आठ अंक बढ़कर 1,167 पर रहा जबकि ग्रामीण श्रमिकों के लिए यह आंकड़ा 1,178 अंक रहा.

Featured Video Of The Day

रत्नागिरी रिफाइनरी के खिलाफ लिखने पर पत्रकार की रौंदकर हत्या!