यह ख़बर 10 जुलाई, 2014 को प्रकाशित हुई थी

आम बजट : क्या हुआ सस्ता, क्या हुआ महंगा...

नई दिल्ली:

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने वित्तवर्ष 2014-15 के लिए आम बजट पेश करते हुए आयकरदाताओं को तोहफा दिया, और आयकर छूट सीमा को 50,000 रुपये बढ़ाकर दो से 2,50,000 रुपये कर दिया।

इसके अलावा उन्होंने अन्य कई करों में भी बदलाव की घोषणाएं कीं, जिनका असर रोजमर्रा की ज़िन्दगी में इस्तेमाल होने वाली चीज़ों पर पड़ेगा। वित्त मंत्री ने साबुन बनाने में काम आने वाले कुछ रसायनों पर कस्टम ड्यूटी समाप्त करने की घोषणा की। इन पर पहले 7.5 प्रतिशत कस्टम ड्यूटी लगती थी।

पर्सनल कंप्यूटर में काम आने वाले उपकरणों के आयात पर 4 प्रतिशत स्पेशल एडिशनल ड्यूटी भी खत्म कर दी गई है, साथ ही कलर पिक्चर ट्यूब पर भी आयात शुल्क समाप्त हो गया है। खाद्य प्रसंस्करण मशीनरी पर भी उत्पाद शुल्क को 10 प्रतिशत से घटाकर 6 प्रतिशत करने का प्रस्ताव किया गया है। आम बजट 2014 में सेवा कर का दायरा बढ़ाते हुए रेडियो टैक्सी की सेवाओं और इंटरनेट पर विज्ञापनों को भी इसके दायरे में लाया गया है।

वित्तमंत्री अरुण जेटली की घोषणाओं से सस्ती और महंगी होने जा रही वस्तुओं की सूची इस प्रकार है...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सस्ते होंगे

  • छोटे एलसीडी टीवी
  • छोटे एलईडी टीवी
  • तेल
  • साबुन
  • कम्प्यूटर पार्ट्स
  • मोबाइल फोन
  • दवाइयां
  • स्टील का सामान
  • हीरे और अन्य कीमती पत्थर
  • 500 से 1,000 रुपये तक के फुटवियर
  • डेस्कटॉप, लैपटॉप व टैबलेट
  • आरओ आधारित वॉटर प्यूरिफायर
  • एचआईवी-एड्स के इलाज की दवाएं

महंगे होंगे

  • रेडीमेड कपड़े
  • इम्पोर्टेड कॉस्मैटिक्स
  • सिगरेट-सिगार
  • गुटखा-तंबाकू
  • कोल्ड ड्रिंक
  • बोतलबंद जूस
  • आयातित इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद
  • पोर्टेबल एक्स-रे मशीन