तापसी पन्नू ने ट्वीट कर सितारों पर कसा तंज, बोलीं- अगर एक ट्वीट आपकी एकता को हिला सकता है तो...

प्रोपैगैंडा को लेकर ही तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा कि प्रोपैगैंडा टीचर बनने की जगह आपको अपने वैल्यू सिस्टम को मजबूत करने की जरूरत है.

तापसी पन्नू ने ट्वीट कर सितारों पर कसा तंज, बोलीं- अगर एक ट्वीट आपकी एकता को हिला सकता है तो...

तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने ट्वीट कर सितारों पर कसा तंज

खास बातें

  • तापसी पन्नू ने ट्वीट कर सितारों पर कसा तंज
  • एक्ट्रेस ने कहा कि अगर एक ट्वीट आपकी एकता को हिला सकता है तो...
  • तापसी पन्नू का ट्वीट खूब हो रहा है वायरल
नई दिल्‍ली:

अमेरिकन पॉप सिंगर रिहाना (Rihanna) और कई हॉलीवुड सितारों के किसान आंदोलन (Farmer Protest) पर ट्वीट के बाद अक्षय कुमार (Akshay Kumar), सुनील शेट्टी (Suniel Shetty), अजय देवगन (Ajay Devgn) और कई बॉलीवुड सितारों ने किसानों को लेकर ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने एकता को बनाए रखने और प्रचार के खिलाफ रहने की भी सलाह दी थी. वहीं, प्रोपैगैंडा को लेकर ही तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा कि प्रोपैगैंडा टीचर बनने की जगह आपको अपने वैल्यू सिस्टम को मजबूत करने की जरूरत है. 


तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) के इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर भी खूब कमेंट कर रहे हैं. तापसी पन्नू ने बॉलीवुड और अन्य सेलिब्रिटीज पर तंज कसते हुए लिखा, "यदि एक ट्वीट आपकी एकता को हिला सकता है, एक मजाक आपके विश्वास को कुरेदता है और एक शो आपके धार्मिक विश्वास को आहत करता है तो यह केवल आप हैं, जिन्हें अपने वैल्यू सिस्टम पर काम करने की जरूरत है न कि दूसरों के लिए प्रोपैगैंडा टीचर बनने की." बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब तापसी पन्नू ने समसामयिक मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय पेश की हो. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इससे पहले तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने गणतंत्र दिवस पर हुई किसान आंदोलन के दौरान हिंसा पर भी बेबाकी से अपनी राय पेश की थी. बता दें कि हाल ही में तापसी पन्नू की अपकमिंग फिल्म लूप लपेटा का लुक रिलीज हुआ है. फिल्म के फर्स्ट लुक को उन्होंने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से शेयर किया है, जिसमें वह ग्रीन कलर की टी-शर्ट में नजर आ रही हैं. 'लूप लपेटा' का फर्स्ट लुक शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, "लाइप में कई बार ऐसा वक्त भी आता है, जब हमें खुद से यह सवाल करना पड़ता है कि मैं यहां आई कैसे. मैं भी यही सोच रही थी..."