विज्ञापन
Story ProgressBack

60 लाख का बजट और कमाए थे नौ करोड़, डेढ़ घंटे की फिल्म की कहानी ऐसी हंस-हंसकर हो जाएंगे लोटपोट

महज साठ लाख रुपए में बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर नौ करोड़ का बिजनेस करके मेकर्स को मालामाल कर दिया था. आज भी लोग दिमाग को हल्का करने के लिए और हंसने के लिए इस फिल्म को देख लेते हैं.

Read Time: 3 mins
60 लाख का बजट और कमाए थे नौ करोड़, डेढ़ घंटे की फिल्म की कहानी ऐसी हंस-हंसकर हो जाएंगे लोटपोट
कम बजट इस फिल्म ने की थी मोटी कमाई
नई दिल्ली:

बॉलीवुड में यूं तो हर साल हजारों फिल्में बनती हैं. इनमें से कुछ का बजट बहुत ज्यादा होता है और कुछ महज छोटे से बजट में ही तैयार हो जाती हैं. हर फिल्म मेकर ये सोचकर पैसा लगाता है कि ज्यादा बजट की फिल्म ज्यादा चलेगी लेकिन कई बार ऐसा होता है कि बेहद कम बजट की फिल्म भी ब्लॉकबस्टर हिट साबित हो जाती हैं. ऐसी फिल्मों को छोटा पैकेट बड़ा धमाका कहा जा सकता है.ऐसी ही एक कम बजट की धांसू कॉमेडी फिल्म 2007 में आई थी जिसने सबका भेजा फ्राई कर दिया था. महज साठ लाख रुपए में बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर नौ करोड़ का बिजनेस करके मेकर्स को मालामाल कर दिया था. आज भी लोग दिमाग को हल्का करने के लिए और हंसने के लिए इस फिल्म को देख लेते हैं.

2007 में आई थी भेजा फ्राई 
जी हां बात हो रही है 2007 में आई कॉमेडी फिल्म भेजा फ्राई की. सागर बेल्लारी के डायरेक्शन में बनी इस कल्ट कॉमेडी को देखकर लोग आज भी लोट पोट हो जाते हैं. फिल्म में विनय पाठक ने अपनी एक्टिंग और कॉमेडी से समां बांध दिया था. विनय पाठक के साथ साथ फिल्म में रजत कपूर, सारिका, मिलिंद सोमन और रणवीर शौरी जैसे शानदार एक्टर थे. फिल्म 13 अप्रैल को रिलीज हुई और  माउथ पब्लिसिटी के जरिए इसने सिनेमाघरों में तहलका मचा दिया. फिल्म को क्रिटिक्स से भी ढेर सारी सराहना मिली. ये फिल्म 1998 की हॉलीवुड मूवी दा डिनर गेम से इंस्पायर थी. फिल्म का मैजिक थे विनय पाठक जो एक बातूनी के किरदार में ऐसे फिट हो गए कि देखने वाले बस देखते ही रह गए.

विनय पाठक की जबरदस्त कॉमेडी ने हिट करा दी थी फिल्म

फिल्म विनय पाठक यानि भारत भूषण नाम के शौकिया सिंगर पर बेस्ड है जो पेशे से इनकम टैक्स क्लर्क हैं. भारत भूषण एक थडानी बने रजत कपूर के घर किसी पार्टी में मेहमान बनकर जाते हैं और फिर अपनी बातों से वहां मौजूद लोगों का दिमाग इस तरह चाट जाते हैं कि ऑडियंस हंस हंस कर पागल हो जाता है. फिल्म में एक्टरों की शानदार एक्टिंग के साथ साथ गजब के डायलॉग ने भी लोगों को काफी इंप्रेस किया था. फिल्म में भारत भूषण   थडानी उसकी पत्नी, उसका प्रेमी, थडानी की प्रेमिका के ताने बाने पर गजब की बातें करते हैं किन सुन सुन कर लोगों का भेजा फ्राई हो जाता है.

 कॉमिक टाइमिंग और एक्सप्रेशन ने जीत लिया दिल

विनय पाठक के जबरदस्त एक्सप्रेशन, उनकी डायलॉग डिलीवरी से इस सिचुएशनल कॉमेडी में चार चांद लगा दिए थे.उनके कुछ संवाद जैसे - जैसा कि मैं कह रहा था,भारत भूषण की कहानी गीतों की जुबानी. फिल्म में हर शख्स ने अपना किरदार शिद्दत से निभाया और सिंपल लेकिन जबरदस्त कही जाने वाली इस मूवी ने लोगों को वाकई हंसने पर मजबूर कर दिया था.

Bollywood News: मुश्किल में बॉलीवुड, सुस्ती भरे 64 दिन

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बिग बॉस से पहले अनिल कपूर ने शुरू की 'सूबेदार' की शूटिंग, एक्शन देख फैन्स हुए हैरान, बोले- मजनू भाई...
60 लाख का बजट और कमाए थे नौ करोड़, डेढ़ घंटे की फिल्म की कहानी ऐसी हंस-हंसकर हो जाएंगे लोटपोट
रेखा ने जब शादीशुदा आदमी के लिए प्यार के सवाल पर दिया था रिएक्शन, बोलीं- कोई मुझसे पूछो
Next Article
रेखा ने जब शादीशुदा आदमी के लिए प्यार के सवाल पर दिया था रिएक्शन, बोलीं- कोई मुझसे पूछो
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;