डूब गया था अमिताभ बच्चन का करियर, 5 साल तक नहीं की कोई फिल्म फिर अचानक एक साइड रोल से चमकी किस्मत

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन की जिंदगी में भी एक ऐसा दौर आया जब उनकी फिल्में बुरी तरह से पिटने लगी. इस दौरान किस फिल्म ने उनकी डूबती नैया को बचाया आइए हम आपको बताते हैं.

डूब गया था अमिताभ बच्चन का करियर, 5 साल तक नहीं की कोई फिल्म फिर अचानक एक साइड रोल से चमकी किस्मत

जब बुरे दौर से गुजर रहे थे बिग बी किस फिल्म ने पार लगाई नाव

नई दिल्ली:

कहते हैं किसी भी कलाकार के लिए हर समय एक जैसा नहीं होता है. किसी समय उसकी फिल्में नंबर वन होती हैं तो कभी फ्लॉप हो जाती हैं. ये टाइम लगभग हर कलाकार के जीवन में आता है और इस फेज से सदी के महानायक अमिताभ बच्चन भी गुजर चुके हैं. जी हां बिग बी के करियर में भी वो समय आया जब उनकी फिल्में फ्लॉप होने लगीं और उन्होंने अनिश्चितकाल के लिए बड़े पर्दे से रिटायरमेंट का ऐलान तक कर दिया लेकिन जब उन्होंने वापसी की तो कैसा था बिग बी का कमबैक आइए हम आपको बताते हैं.

5 साल के कमबैक के बाद दी फ्लॉप फिल्म

70 और 80 के दशक में शोले, शहंशाह, दीवार जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्में देने के बाद 80 के दशक में अमिताभ बच्चन का मन सिनेमा से भरने लगा. 1992 में अमिताभ बच्चन ने एक बयान जारी किया जिसमें उन्होंने अनिश्चितकाल के लिए बॉलीवुड को छोड़ने का फैसला कर लिया. इसके बाद बिग भी 1997 तक बड़े पर्दे से दूर रहे लेकिन 1997 में उनकी फिल्म मृत्युदंड आई और ये फिल्म रिलीज होते से ही बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह से पिट गई. इसकी वजह से अमिताभ बच्चन का स्टारडम कम होता नजर आने लगा.

बड़े मियां छोटे मियां ने बचाई लाज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इसके बाद अमिताभ बच्चन ने 1998 में डेविड धवन के डायरेक्शन में बनी फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' में गोविंदा के साथ काम किया और ये फिल्म उनके डूबते करियर के लिए तिनके के सहारे की तरह काम आई. ये फिल्म ब्लॉकबस्टर रही. उस समय इस फिल्म को लगभग 12 करोड़ रुपए में बनाया था और इसने 35 करोड़ से ज्यादा की कमाई की थी. लेकिन यही वो फिल्म है जिसके बाद अमिताभ बच्चन को लीड रोल की जगह साइड रोल के ऑफर्स मिलने लगे. अब बड़े मियां छोटे मियां का सीक्वल बनाया जा रहा है जिसमें अक्षय कुमार बड़े मियां तो टाइगर श्रॉफ छोटे मियां के रोल में नजर आएंगे.