ट्विटर पर इस वजह से लोग शेयर कर रहे बिना 'सिंदूर' और 'मंगलसूत्र' के Pics, ट्रेंड कर रहा है #WithoutSymbolsOfMarriage

शादी के अन्य पारंपरिक प्रतीकों के बिना भी कई महिलाएं अपनी तस्वीरें शेयर कर रही हैं और इस वजह से #WihtoutSymbolsOfMarriage काफी ट्रेंड कर रहा है.

ट्विटर पर इस वजह से लोग शेयर कर रहे बिना 'सिंदूर' और 'मंगलसूत्र' के Pics, ट्रेंड कर रहा है #WithoutSymbolsOfMarriage

सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है #WithoutSymbolsOfMarriage

नई दिल्ली:

ट्विटर पर कई महिलाएं इन दिनों बिना सिंदूर और मंगलसूत्र के अपनी पिक्स शेयर कर रही हैं. इसके अलावा शादी के अन्य पारंपरिक प्रतीकों के बिना भी कई महिलाएं अपनी तस्वीरें शेयर कर रही हैं और इस वजह से #WihtoutSymbolsOfMarriage काफी ट्रेंड कर रहा है. दरअसल, कुछ दिन पहल ही गुवाहाटी हाई कोर्ट ने एक शख्स को इस आधार पर तलाक लेने की अनुमति दे दी क्योंकि उसकी पत्नी ने शाखा और सिंदूर लगाने से मना कर दिया था. 

ऐसे में ट्विटर पर कई महिलाएं अपनी सेल्फी और थ्रोबैक तस्वीरें शेयर कर रही हैं, जिनमें वह अपनी शादी के दिन बिना सिंदूर, मंगलसूत्र, चूड़ियां और बिंदी के दिखाई दे रही हैं. बता दें हिंदू शादी में पारंपरिक रूप से एक विवाहित महिला का यह सब पहनने का काफी महत्व है. एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ''चूड़ियां, सिंदूर, बिंदी और मंगलसूत्र पहनना ही शादीशुदा होने की पहचान नहीं है. हम बिना इसके ही सुंदर और शादीशुदा हैं, माननीय उच्च न्यायालय''. 

वहीं एक अन्य ने लिखा, ''शादी में प्यार, आपसी समझ और बराबरी मायने रखती है ना कि कोई सिम्बल''.

एक अन्य यूजर ने अपनी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, ''बिना मंगलसूत्र, बिना गहने, बिना सिंदूर और पुराने कपड़ों में हमने तीस हजारी कोर्ट में शादी की और यह उसी दिन की तस्वीर है.''


यूजर ने लिखा, ''सन 2018 में संविधान को साक्षी मानकर हमने साथी को चुना था, सिंदूर, मंगलसूत्र कुछ नही पहना,  ना पंडित के मंत्र, अब ये रिश्ता लीगल है या इललीगल, ये कोई एक कैसे तय कर सकता है?? सिंदूर, चूड़ी, बिंदी से सब मेरी मर्जी है इसको करना या नही करना, ये क्रूरता कैसे?''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गुवाहाटी हाई कोर्ट ने 19 जून को दिए गए इस फैसले में कहा था, 'पत्नी का शाखा-सिंदूर पहनने से मना करना उसे या तो कुंवारी दिखाता है या फिर इसका मतलब है कि उसे शादी मंजूर नहीं है. पत्नी का ऐसा रुख यह साफ करता है कि वो अपना विवाह जारी नहीं रखना चाहती.'