QS Rankings 2022: टॉप- 200 संस्थान में शामिल हुए IISc, IIT दिल्ली और बॉम्बे, PM मोदी ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने बुधवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) बॉम्बे, बैंगलूरू स्थित भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), और IIT दिल्ली को बधाई दी, जिन्हें QS विश्व विश्वविद्यालय रैंकिंग 2022 में शीर्ष 200 की सूची में शामिल किया गया है.

QS Rankings 2022: टॉप- 200 संस्थान में शामिल हुए IISc, IIT दिल्ली और बॉम्बे,  PM मोदी ने दी बधाई

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने बुधवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) बॉम्बे,  बैंगलूरू स्थित भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), और IIT दिल्ली को बधाई दी, जिन्हें QS विश्व विश्वविद्यालय रैंकिंग 2022 में शीर्ष 200 की सूची में शामिल किया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "भारत के अधिक विश्वविद्यालयों और संस्थानों को वैश्विक उत्कृष्टता सुनिश्चित करने और युवाओं के बीच बौद्धिक कौशल का समर्थन करने के प्रयास चल रहे हैं."

भारतीय विज्ञान संस्थान, बेंगलुरु दुनिया का शीर्ष अनुसंधान विश्वविद्यालय है, जबकि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी इस श्रेणी में 41वें नंबर पर है.

आपको बता दें, लंदन स्थित क्वैकक्वेरेली सायमंड्स (क्यूएस) के विश्लेषण में भारतीय विज्ञान संस्थान को 100 में से 100 अंक मिले हैं. रैंकिंग के 18वें संस्करण के अनुसार, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) बॉम्बे क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग्स 2022 में लगातार चौथे साल भारत का शीर्ष संस्थान रहा है. हालांकि 2021 की रैंकिंग के मुकाबले वह चार पायदान फिसलकर 177वें नंबर पर है.

आईआईटी, दिल्ली भारत का दूसरा सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय है और वह पिछले साल के 193वें नंबर के बजाय इस बार 185वें नंबर पर आया है. यह आईआईएस की रैंकिंग बढ़ने के कारण हुआ है. आईआईएस 186वें नंबर पर है. पहली बार विश्व के शीर्ष 400 विश्वविद्यालयों में आईआईटी, मद्रास ने 20 पायदान की छलांग मारी है और अब वह 255वें नंबर पर है जो 2017 के बाद से उसकी सबसे अधिक रैंकिंग है. आईआईटी खड़गपुर 280 जबकि आईआईटी गुवाहाटी संयुक्त रूप से 395वें नंबर पर है.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने ट्ववीट करते हुए कहा, “यह साझा करते हुए बहुत गर्व हो रहा है कि @IISCBangalore अनुसंधान के लिए दुनिया में नंबर 1 स्थान पर है और QS वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के 18 वें संस्करण में विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में 186 वें स्थान पर है। महान कार्य के लिए हार्दिक बधाई, ”

रमेश पोखरियाल ने कहा, राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 और इंस्टीट्यूट ऑफ एमिनेंस (IoE) केंद्र सरकार द्वारा की गई पहलों में से हैं, जिससे संस्थानों को वैश्विक पहचान हासिल करने में मदद मिली है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com