CBSE Syllabus 2022-23: सीबीएसई ने बोर्ड परीक्षा का सिलेबस किया जारी, अगले साल से नहीं होगी 2 टर्म में परीक्षा

CBSE Syllabus 2022-23: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने शैक्षणिक वर्ष 2022-23 के लिए वार्षिक पाठ्यक्रम जारी कर दिया है. इसके मुताबिक सीबीएसई अगले साल से कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए दो टर्म में परीक्षाओं का आयोजन नहीं करेगा और परीक्षा पहले की तरह हुआ करेंगी.

CBSE Syllabus 2022-23: सीबीएसई ने बोर्ड परीक्षा का सिलेबस किया जारी, अगले साल से नहीं होगी 2 टर्म में परीक्षा

CBSE Syllabus 2022-23: अगले साल से दो टर्म में नहीं होगी परीक्षा

नई दिल्ली:

CBSE Syllabus 2022-23: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने शैक्षणिक वर्ष 2022-23 के लिए वार्षिक पाठ्यक्रम जारी कर दिया है. सीबीएसई के नए पाठ्यक्रम के अनुसार कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के पाठ्यक्रम को दो टर्म में विभाजित नहीं किया गया है, जिससे संकेत मिलता है कि टर्म सिस्टम को बंद कर दिया गया है. इसके अलावा, सीबीएसई द्वारा घोषित संशोधित पाठ्यक्रम में प्रमुख विषयों के लिए और कटौती देखी गई है, बोर्ड ने इस वर्ष के लिए भी अध्यायों की संख्या सीमित रखने का निर्णय लिया है. सीबीएसई पाठ्यक्रम 2022-23 आधिकारिक वेबसाइट cbseacademic.nic के माध्यम से डाउनलोड किया जा सकता है.

ये भी पढ़ेंः रद्द हो सीबीएसई, सीआईएससीई की 10वीं, 12वीं टर्म 2 परीक्षा, कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच छात्रों की मांग

CBSE 10th, 12th Exams: 10वीं, 12वीं की परीक्षा के तरीके को लेकर कोई निर्णय नहीं, अधिकारी ने कहा

CBSE 10th, 12th Exams: सीबीएसई 10वीं, 12वीं की परीक्षा अगले साल से सिंगल मोड में, सिलेबस में नहीं होगा कोई बदलाव

देश में कोविड (COVID-19) महामारी के कारण सीबीएसई ने 2021-22 की बोर्ड परीक्षाओं को दो चरणों में विभाजित किया था. सीबीएसई ने कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के लिए टर्म 1 परीक्षा का आयोजन नवंबर और दिसंबर 2021 में किया था. जबकि सीबीएसई टर्म 2 परीक्षा अप्रैल-मई 2022 में आयोजित की जानी है. 

सीबीएसई कक्षा 12वीं सिलेबस 2022-23 के अनुसार, "असेस्मेंट स्कीम में प्रत्येक विषय के लिए दिए गए सिलेबस के अनुसार एक थ्योरी, इंटरनल असेस्मेंट या प्रैक्टिकल कंपोनेंट शामिल होंगे. बोर्ड कक्षा 12वीं के लिए वार्षिक परीक्षा आयोजित करेगा."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सीबीएसई के कक्षा नौवीं और 10वीं के सिलेबस के मुताबिक, ''असेस्मेंट स्कीम में इंटरनल असेस्मेंट के 20 अंकों के कंपोनेंट के साथ आंतरिक रूप से मूल्यांकन किए जाने वाले अनिवार्य विषयों को छोड़कर सभी विषयों में बोर्ड परीक्षा (दसवीं कक्षा) और वार्षिक परीक्षा (कक्षा नौवीं) के लिए 80 अंकों का कंपोनेंट होगा.''