सेंसेक्स 198 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,500 अंक के पार

बिजली, दूरसंचार और फार्मा कंपनियों के शेयरों में लाभ से मंगलवार को सेंसेक्स (Sensex) एक दिन पहले की भारी गिरावट से उबर गया और 198 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ.

सेंसेक्स 198 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,500 अंक के पार

सेंसेक्स की कंपनियों में पावरग्रिड का शेयर करीब चार प्रतिशत चढ़ गया

मुंबई:

बिजली, दूरसंचार और फार्मा कंपनियों के शेयरों में लाभ से मंगलवार को सेंसेक्स (Sensex) एक दिन पहले की भारी गिरावट से उबर गया और 198 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ. शुरुआती कारोबार में बीएसई (BSE) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स करीब 700 अंक टूट गया था. लेकिन बाद में इसने अपने नुकसान की भरपाई की और अंत में यह 198.44 अंक या 0.34 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58,664.33 अंक पर बंद हुआ. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी (Nifty) 86.80 अंक या 0.50 प्रतिशत के लाभ से 17,503.35 अंक पर पहुंच गया.

सेंसेक्स की कंपनियों में पावरग्रिड का शेयर करीब चार प्रतिशत चढ़ गया. एनटीपीसी, टाटा स्टील, भारती एयरटेल, सन फार्मा और बजाज फिनसर्व के शेयर भी लाभ में रहे. वहीं दूसरी ओर इंडसइंड बैंक, एशियन पेंट्स, इन्फोसिस, बजाज ऑटो और मारुति के शेयर 2.59 प्रतिशत तक टूट गए.


जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘धातु, सरकारी बैंक और फार्मा कंपनियों के शेयरों की अगुवाई में घरेलू शेयर बाजार गिरावट से उबर गए. मिडकैप और स्मॉलकैप का प्रदर्शन मुख्य सूचकांकों से बेहतर रहा.'' उन्होंने कहा कि जेरोम पावेल को फिर से फेडरल रिजर्व का चेयरमैन नामित किया गया है. इसके बावजूद सोमवार को कारोबार के अंतिम घंटे में अमेरिकी बाजारों में बिकवाली का सिलसिला चला.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अन्य एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में रहे. वहीं चीन के शंघाई कम्पोजिट और जापान के निक्की में लाभ रहा. दोपहर के कारोबार में यूरोपीय बाजार नुकसान में थे. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल 1.02 प्रतिशत के नुकसान से 78.89 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)